अब लखवी को लॉकअप, अजहर को…

जकीउर्र रहमान लखवी को जेल और मसूद अजहर को वारंट जारी किया गया है। आतंक के इन आकाओं पर कार्रवाई के जरिये पाकिस्तान विश्व की ग्रे सूची से बाहर आने की कोशिश में है। जिससे उसे वैश्विक रूप से आर्थिक सहायता मिल पाए।

लश्कर ए तोयबा का टॉप कमांडर पंद्रह वर्षों के लिए लॉक हो गया है। उसे टेरर फंडिंग के मामले में दोषी पाया गया है। जिसके बाद अब उसे एक सप्ताह पहले गिरफ्तार किया गया था।

जकीउर्र रहमान लखवी लश्कर ए तोयबा का ऑपरेशन कमांडर है। मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले के बाद उसे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव के अनुसार वैश्विक आतंकी घोषित किया गया है। टेरर फंडिंग के मामले में उसे 2 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था।

ये भी पढ़ें – जानें क्या हैं आरक्षण पर सियासत के बदलते राग?

मसूद को भी कोर्ट का वारंट

जैश ए मोहम्मद आतंकी समूह के मुखिया मसूद अजहर को एंटी टेरोरिज्म कोर्ट ने वारंट जारी किया है। मसूद को भी टेरर फंडिंग केस में ही वांरट जारी हुआ है।

ये भी पढ़ें – लश्कर का लखवी फिर हुआ…. जानें बड़ी खबर

गुजरांवाला एंटी टेरोरिज्म कोर्ट एक याचिका पर सुनवाई कर रही है जो काउंटर टेरोरिज्म डिपार्टमेंट (सीटीडी) द्वारा दायर की गई है। सीटीडी ने कोर्ट में बताया है कि मसूद टेरर फाइनेन्सिंग और जिहादी सामान बेचने का आरोपी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here