अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर जानें बड़ी खबर

अंतरराष्ट्रीय हवाई उड़ानों पर कोविड-19 संक्रमण के कारण प्रतिबंध लगाए गए हैं। इसको लेकर नागरी उड्डयन मंत्रालय और नागर विमानन महानिदेशालय लगातार अपने परिपत्रों के जरिये सूचनाएं जारी करती रही है।

अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल उड़ानों को लेकर बड़ी खबर है। इन उड़ानों को लेकर लागू किया गया प्रतिबंध 28 फरवरी तक बढ़ा दिया गया है। इसमें कार्गो विमानों का संचालन और डीजीसीए द्वारा अनुमति प्राप्त उड़ानें शामिल नहीं हैं यानी वे नियमित रूप से संचालित की जा सकती हैं।

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एक परिपत्र जारी किया है। जिसके अनुसार 26 जून 2020 के परिपत्र में थोड़ा सा बदलाव किया गया है। इसके अनुसार अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल उड़ानों से संबंधित पिछले परिपत्र की सीमा को 28 फरवरी 2021 तक बढ़ा दिया गया है।

ये भी पढ़ें – महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद, सियासी घमासान ऐसे हो रहा बेलगाम!

हालांकि, अनुमति प्राप्त अंतरराष्ट्रीय उड़ानें तय समय के अनुसार जारी रहेंगी। कोविड-19 महामारी के कारण 23 मार्च 2020 से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतंबिध लगा दिया गया है। इस बीच मई 2020 से विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए केंद्र सरकार ने वंदे भारत मिशन शुरू किया था। जिसके अंतर्गत द्विपक्षीय ‘एयर बबल रूट’ की सहमति के अनुसार हवाई सेवाएं संचालित की गईं।

ये भी पढ़ें – फारुकी को अभी और महंगी पड़ेगी मसखरी!

भारत ने विदेश में फंसे अपने नागरिकों को वापस लाने के लिए 24 देशों से समझौते किये थे। इसमें अमेरिकी, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, केनिया, भूटान, फ्रांस आदि देशों के समावेश है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here