उद्धव ठाकरे भूल गए अपनी ‘वो’ बात, जो योगी आदित्यनाथ के लिए कही थी!

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी के बाद उद्धव ठाकरे के एक पुराने और इसी तरह के आपत्तिजनक बयान पर चर्चा गरम है।

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी पर महाराष्ट्र से दिल्ली तक महाभारत मचा हुआ है। शिवसेना के साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी भी राणे के खिलाफ की गई कार्रवाई को उचित ठहरा रही है, लेकिन कुछ साल पीछे जाकर देखें तो जिस तरह का बयान नारायण राणे ने प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर दिया है, उसी तरह की बात उद्धव ठाकरे ने भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए एक रैली में कही थी।

रायगढ़ जिले में 23 अगस्त को जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान राणे ने कहा था कि यह शर्मनाक है कि राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को यह नहीं पता कि स्वतंत्रता दिवस के कितने साल हो गए। अगर मैं वहां होता तो उन्हें कान के नीचे बजा देता। इस बयान को लेकर ही राणे को गिरफ्तार किया गया है।

इस बात पर चर्चा
अब राणे की गिरफ्तारी के बाद उद्धव ठाकरे के एक पुराने और इसी तरह के आपत्तिजनक बयान पर चर्चा गरम है। उन्होंने यह बयान योगी आदित्यनाथ को लेकर दिया था। ठाकरे ने योगी को चप्पल से मारने की बात कही थी।

ये भी पढ़ेंः भोजन भी न करने दिया… ऐसे हुई नारायण राणे पर पुलिस कार्रवाई

पालघर चुनाव प्रचार के दौरान उद्धव ठाकरे ने कही थी ये बात
2018 के मई महीने में महाराष्ट्र के पालघर में चुनाव प्रचार किया जा रहा था। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के रिश्ते बिगड़ चुके थे। तब उद्धव ठाकरे ने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था, ‘शिवाजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते समय योगी आदित्यनाथ ने खड़ाऊ पहन रखा था। उन्होंनो ऐसा करके शिवाजी महाराज का अपमान किया।’ ठाकरे ने आगे कहा था, ‘यह योगी तो गैस के गुब्बारे की तरह है, जो केवल हवा में उड़ता रहता है। आया और सीधे चप्पल पहनकर महाराज के पास चला गया। मुझे ऐसा लग रहा है कि उसी चप्पल से उसे मारूं।’

योगी ने दी थी प्रतिक्रिया
उद्धव ठाकरे के उस बयान पर योगी आदित्यनाथ ने भी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने कहा था, ‘मेरे अंदर उनसे ज्यादा शिष्टाचार है और मैं जानता हूं कि कैसे श्रद्धांजलि दी जाती है। मुझे उनसे कुछ भी सीखने की जरुरत नहीं है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here