Supreme Court: मुख्यमंत्री केजरीवाल को अंतरिम जमानत मिलने पर भाजपा ने कही ये बात

325

Supreme Court: दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने 10 मई को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अंतरिम जमानत मिलने पर कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का भाजपा सम्मान करती है लेकिन अंतरिम जमानत मिलने का मतलब यह नहीं है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अपराध मुक्त साबित हो गए। कभी कभी अपराधियों को भी पैरोल पर छोड़ा जाता है और यह एक कानूनी प्रक्रिया है। इससे यह प्रमाणित नहीं हो जाता कि अरविंद केजरीवाल, जो करोड़ो रूपये के शराब घोटाले के मुख्य सरगना हैं, आज दोषमुक्त हो गए हैं।

सत्य बाधित, पराजित नहीं
वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा कि सत्य थोड़ी देर के लिए बाधित हुआ है पराजित ,नहीं क्योंकि सच्चाई यही है कि दिल्ली में हुए शराब घोटाले, युवाओं को नशे में धकेलने वाले और अपनी जेब भरने के लिए नई शराब नीति लाने वाले सिर्फ और सिर्फ अरविंद केजरीवाल हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता जिस प्रकार से ढोल नगाड़ों के साथ यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि अरविंद केजरीवाल दोष मुक्त हो गए हैं तो वह एक बार फिर से दिल्ली की जनता को गुमराह कर रहे हैं और उन्हें धोखा देने का काम कर रहे हैं।

सभी घोटालों के सूत्रधार केजरीवाल
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली की जनता इस बात को समझ चुकी है कि दिल्ली में शराब घोटाला हो या फिर अन्य घोटाले, सबके सूत्रधार अरविंद केजरीवाल हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए आज आम आदमी पार्टी के पास कोई स्थानीय मुद्दा नहीं है क्योंकि राज्य सरकार के तौर पर उन्होंने पिछले 10 सालों में कुछ नहीं किया इसलिए पहले अरविंद केजरीवाल के जेल के अंदर बंद होने के नाम पर हल्ला मचाया और अब जेल से बाहर निकलने का एक भ्रामक माहौल बनाने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं, जिसमें दिल्ली की जनता नहीं आने वाली हैं। आगामी लोकसभा चुनाव में सभी 7 सीटों पर भाजपा के प्रत्याशी जीतने वाले हैं।

Lok Sabha Elections: पूरे देश में गूंज रहा एक ही स्वर …! सीएम योगी ने की मतदाताओं से अपील

सर्वोच्च न्यायालय की शर्त स्पष्ट
सचदेवा ने कहा कि अंतरिम जमानत देते वक्त सुप्रीम कोर्ट ने साफ तौर पर आगाह किया है कि अंतरिम जमानत के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ना तो मुख्यमंत्री कार्यालय जाएंगे और ना ही दिल्ली सचिवालय जाएंगे। मतलब साफ है कि सुप्रीम कोर्ट ने भी इस बात को स्वीकार किया है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल दोषमुक्त नहीं हुए सिर्फ उन्हें चुनाव कार्य हेतु अंतरिम जमानत दी गई है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.