Uttarakhand: खाई में गिरी कार, यूपी के रामपुर जिले के 5 युवकों की मौत, इस कारण हुआ भीषण हादसा

नैनीताल जनपद के कोटाबाग विकास खंड के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र में एक बड़ी दुर्घटना हुई। इस दुर्घटना में दिल्ली नंबर की एक कार करीब 500 मीटर गहरी खाई में गिरकर चकनाचूर हो गई।

336

उत्तराखंड के नैनीताल जनपद के कोटाबाग विकास खंड के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र में एक बड़ी दुर्घटना हुई। इस दुर्घटना में दिल्ली नंबर की एक कार करीब 500 मीटर गहरी खाई में गिरकर चकनाचूर हो गई। इस कार में सवार उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के बिलासपुर निवासी 5 युवकों की मौत हो गई। इनके शव खाई में दूर-दूर छिटके पड़े हुए मिले।

पुलिस, एसडीआरएफ एवं अन्य बचाव दलों ने मृतकों के शवों को 25 नवंबर को रेस्क्यू कर कोटाबाग के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। बताया गया है कि घटना देर रात्रि हुई, जबकि आज अपराह्न इस घटना के बारे में सूचना मिली।

500 मीटर गहरी खाई में गिरी कार
यह दुर्घटना नैनीताल के पर्यटन स्थल पंगोट से कालाढूंगी को जाने वाले कच्चे मोटर मार्ग से कट रहे देवीपुरा-सौंड मोटर मार्ग पर बाघनी पुल के पास हुई है। यह दुर्घटनास्थल जिला मुख्यालय नैनीताल और कालाढूंगी दोनों ओर से करीब 40-45 किलोमीटर दूर बताया गया है। इस हादसे में दिल्ली के पर्यटकों की कार करीब 500 मीटर गहरी खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हुई है। घटना का एक भयावह वीडियो भी सामने आया है, जो डरावना और नहीं देखने योग्य है। इसमें लोग सूखे गधेरे में इधर-उधर कार से दूर छिटक कर पड़े हुए नहजर आ रहे हैं।

स्थानीय ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना जमरानी खंड ने बनाई गई इस सड़क पर काफी दिनों से मलबा पड़ा था, विभागीय अधिकारी को कई बार इसकी शिकायत की गई थी, लेकिन फिर भी सड़क मार्ग से मलबा नहीं हटाया गया। इसके कारण यह दुर्घटना हुई है।

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के बिलासपुर निवासी हैं मृतक
जनपद के पुलिस अधीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था डॉ. जगदीश चंद्र ने बताया कि बीती रात्रि बिलासपुर निवासी कार सवार नैनीताल-हल्द्वानी राजमार्ग पर दोगांव में एक ढाबे पर शराब के नशे में झगड़ा करके गये थे। इसकी सूचना रात्रि करीब डेढ़ बजे डीसीआर पर भी आई थी। इसके बाद इनका पीछा किया गया था, लेकिन वे नैनीताल आकर यहां से पंगोट की ओर पुलिस की पहुंच से दूर भाग गये थे।

Bilaspur: 14 टेबलों पर होगी मतगणना, इन दिशानिर्देशों का करना होगा पालन

उन्होंने बताया कि 25 नवंबर को दोपहर करीब सवा दो बजे स्थानीय घोड़ेवालों ने एक कार और कार सवार 5 लोगों के मृत अवस्था में बाघनी नाले के पास 5-6 सौ मीटर गहरी खाई में पड़े होने की सूचना दी। इस पर पुलिस एवं एसडीआरएफ सहित बचाव दलों के लोग मौके पर पहुंचे और शवों को बरामद किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के बिलासपुर शहर निवासी सभी मृतकों के परिजनों ने उनकी पहचान कर ली है। मृतकों में सभी 5 युवक शामिल हैं। उन्होंने संभावना जताई कि ये दोगांव से भागे युवक हो सकते हैं।

मामले में डीएम वंदना सिंह ने बताया कि घटना रात्रि में हुई है जबकि घटना की सूचना 25 नवंबर के दिन में सवा 2 बजे मिली। घटना की सूचना के बाद बचाव दलों को सड़क विभाग के अधिकारियों को मौके पर भेजा गया है।

ये है मृतकों का विवरण
मृतकों की पहचान विजती फार्म बिलासपुर, जिला रामपुर, उत्तर प्रदेश निवासी 27 वर्षीय रवि प्रताप सिंह पुत्र बलवीर सिंह वीरा, सुखमीत सिंह पुत्र इकबाल सिंह, जगरूप सिंह पुत्र अमरीक सिंह, 26 वर्षीय गुरुसेवक सिंह पुत्र मलकीत सिंह निवासी बारादरी बिलासपुर तथा 23 वर्षीय जगजीत सिंह पुत्र जीव सिंह निवासी सिकौरा बिलासपुर के रूप में हुई है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.