‘तांडव’ के निर्देशक के घर क्यों पहुंची यूपी पुलिस.. जानिए

उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि हमने उन्हें 27 जनवरी को लखनऊ में जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा है।

वेब सीरीज तांडव के निर्देशक अली अब्बास जफर की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। उत्तर प्रदेश की पुलिस मुंबई स्थित उनके घर पर पहुंच गई। हालांकि उस समय घर में कोई नहीं था और बंद था। पुलिस ने उनके घर के बाहर नोटिस चिपका दिया है। इस नोटिस में उन्हें 27 जनवरी को पेश होने के लिए कहा गया है।

…. इसलिए चिपकाया नोटिस
उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि हमने उन्हें 27 जनवरी को लखनऊ में जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा है। उनका घर बंद था, इसलिए हमने नोटिस चिपका दिया है। यूपी के साथ ही महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में भी एफआईआर दर्ज की गई है।

ये भी पढ़ेंः ‘तांडव’ पर क्यों मचा है ‘तांडव’?

हिंदू देवी-देवताओं के अपमान का आरोप
 बता दें कि यूपी के लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में जफर के खिलाफ वेब सीरीज तांडव में हिंदू देवी-देवताओं के अपमान का मामला दर्ज कराया गया है। यह मामला उसी पुलिस थाने में तैनात एक सब इंस्पेक्टर ने दर्ज कराया है।

 मांगी बिना शर्त माफी
अमेजन प्राइम की वेब सीरीज तांडव के निर्नाता-निर्देशक अली अब्बास जफर ने विवाद बढ़ता देख लोगों की भावनाओं को ठेंस पहुंचाने के लिए पहले ही बिना शर्त माफी मांग ली है। उनका कहना है कि उनका इरादा किसी धर्म या जाति- समुदाय के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था। अली ने इसका निर्माण हिमांशु मेहरा के साथ मिलकर किया है।

ये भी पढ़ेंः ऐसे खत्म हुआ चिंकू पठान का खेल!

हटाए गए विवादास्पद दृश्य
इस बीच तांडव के एपिसोड-1 से विवादास्पद दो दृश्य हटा दिए गए हैं। इनमें मुख्य किरदारों के बीच बातचीत का एक दृश्य भी शामिल है।

कोर्ट ने दी है अंतरिम राहत
इस बीच 20 जनवरी को उत्तर प्रदेश के लखनऊ में दर्ज एफआईआर मामले में तांडव के निर्देशक, अमेजन की कंटेंट हेड और अन्य लोगों को मुंबई उच्च न्यायालय ने तीन हफ्ते की ट्रांजिट अंतरिम राहत दी है। तीन हफ्ते में ये इस मामले में  कोर्ट में अंतरिम राहत के लिए याचिका दायर कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here