Bihar: पश्चिम चंपारण में आतंकी फंडिंग का पाक कनेक्शन, ऐसे हुआ खुलासा

बिहार के पश्चिम चंपारण के बेतिया पुलिस ने बीते 8 नवंबर को गोखुला स्टेशन से रूपवलिया गांव निवासी इजहारूल हुसैन को नशे की हालत में गिरफ्तार किया गया था।

596

बिहार के पश्चिम चंपारण मे आतंकी घटनाओ को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान से हो रही फंडिंग का मास्टर माइंड का कनेक्शन बिहार राज्य स्थित पश्चिम चंपारण ज़िला के नरकटियागंज एक गांव भेड़िहरवा से जुड़ा हुआ है।

जिला स्थित शिकारपुर थाना के भेड़िहरवा निवासी इजहारूल पर भारत में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए पड़ोसी देश पाकिस्तान से लगातार हो रही फंडिंग मामले में उत्तर प्रदेश एटीएस को पुख्ता सबूत मिले हैं। इस बड़े नेटवर्क का खुलासा हाल ही में गिरफ्तार हुए संदिग्ध आतंकियों से पूछताछ के दौरान हुआ है।

इसी इनपुट के आधार पर देश के उत्तर प्रदेश एटीएस गाजियाबाद के फरीदनगर पहुंची और केनरा बैंक की एक शाखा में चल रहे संदिग्ध खाते को खंगाला है, जिसमे आतंकी फंडिंग को लेकर तमाम सबूत मिले हैं। बताया जाता है कि गाजियाबाद के फरीदनगर की केनरा बैंक ब्रांच में एक बैंक अकाउंट खोला गया है।

उत्तर प्रदेश एटीएस सक्रिय
इसमें एक महीने में 70 लाख रुपये की विदेशी फंडिंग की गई है। मार्च 2022 से अप्रैल 2022 के बीच 70 लाख रुपए की विदेशी फंडिंग की गई है। इसको लेकर उत्तर प्रदेश एटीएस सक्रिय है। अकाउंट किसी रियाजुद्दीन के नाम से खुला मिला था, जो गाजियाबाद का रहने वाला है। इसी के साथ एटीएस को यह भी जानकारी मिली है कि रियाजुद्दीन के खाते से बिहार में स्थित पश्चमी चंपारण के इजहारुल हुसैन का मोबाइल नम्बर लिंक है और दोनों ही किसी बड़े हमले की प्लानिंग कर रहे थे।

पाकिस्तान में बैठे हैंडलर से था कनेक्शन
दोनों पाकिस्तान में बैठे हैंडलर के टच में थे और हैंडलर ही इन लोगों को फंडिंग कर रहा था। सुरक्षा संस्थानों के साथ-साथ प्रतिष्ठानों और भारतीय सेना की जासूसी के नेटवर्क में फंडिंग की जा रही थी। एटीएस को यह भी जानकारी मिली है कि बिहार का रहने वाला इज़हारुल हुसैन कॉलिंग एप के जरिए पाकिस्तानी हैंडलर से सीधे जुड़ा हुआ था औऱ खाते में आई रकम को कई अन्य बैंक खातों में ट्रांसफर किया गया था।यह इनपुट मिलने के बाद यूपी एटीएस दोनों नामजद आतंकियों को तेजी से तलाश रही है। इसी के साथ ही उत्तर प्रदेश एटीएस ने खाता धारक रियाजुद्दीन और बिहार के रहने वाले इज़हारुल हुसैन समेत अज्ञात पाकिस्तानी एजेंट के खिलाफ लखनऊ में एफआईआर दर्ज कर ली है।

जानकारी के मुताबिक हाल ही में उत्तर प्रदेश एटीएस ने लखनऊ आलमबाग भमौला में रहने वाले अब्दुल्ला अर्सलान और मंजूरगढ़ी में रहने वाले माज बिन तारीक को गिरफ्तार किया था। दोनों के तार अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से जुड़े मिले हैं। इस मामले में भी एटीएस आगे की छानबीन कर रही है और दोनों से पूछताछ जारी है।

इजहारूल की तलाश में है उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम
बिहार के पश्चिम चंपारण के बेतिया पुलिस ने बीते 8 नवंबर को गोखुला स्टेशन से रूपवलिया गांव निवासी इजहारूल हुसैन को नशे की हालत में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि उसका कनेक्शन आतंकियों से जुड़ा है कि नही ,इसकी पुष्टि नही हो पाई है।

थानाध्यक्ष रामश्रय यादव ने बताया कि रूपवलिया गांव निवासी इजहारूल हुसैन को गिरफ्तार किया गया है और उसे जेल भी भेजा गया है। उसके। विरुद्ध शिकारपुर थाने में उत्पाद अधीनियम के तहत मामला दर्ज है। आतंकी कनेक्शन के सवाल पर पुलिस ने कुछ भी बताने से इंकार किया है और की बात बता रहे है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.