अब शिवसेना सड़क पर!

राऊत ने अपनी पत्नी वर्षा राऊत को ईडी द्वारा समन भेजे जाने के बाद काफी गुस्से में हैं। उन्होंने आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। इस बारे में अपना पक्ष रखने के लिए उन्होंने मुंबई के शिवसेना भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया था। इस दौरान उन्होंने बीजीपी पर जोरदार हमला किया।

शिवसेना सांसद संजय राऊत की पत्नी वर्षा राऊत को प्रवर्तन निदेशालय( ईडी) द्वारा समन जारी किए जाने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में भूचाल आ गया है। राऊत ने इसे भारतीय जनता पार्टी की साजिश बताई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि यह बीजेपी की प्रदेश की महाविकास आघाड़ी सरकार गिराने की साजिश का हिस्सा है। इस बीच शिवसेना ने मुंबई स्थित ईडी कार्यालय के बाहर भारतीय जनता पार्टी का बैनर लगाकर अपनी आगे की मंशा जाहिर कर दी है। उसने अब सड़क पर उतरकर बीजेपी को करारा जवाब देने की रणनीति बनाई है।

संजय राऊत का दावा
सांसद राऊत ने दावा किया कि बीजेपी के एक नेता ने उन्हें 22 विधायकों की लिस्ट दिखाई थी। उसने बताया था कि ये सभी विधायक ईडी के रडार पर हैं। उन्होंने दावा किया कि बीजेपी इन विधायकों को ईडी द्वारा समन भेजकर महाविकास आघाड़ी सरकार को गिराने की साजिश रच रही है। राऊत ने अपनी पत्नी वर्षा राऊत को ईडी द्वारा समन भेजे जाने के बाद काफी गुस्से में हैं। उन्होंने आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। इस बारे में अपना पक्ष रखने के लिए उन्होंने मुंबई के शिवसेना भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया था। इस दौरान उन्होंने बीजीपी पर जोरदार हमला किया।

मिल रही है धमकी
संजय राऊत ने दावा किया,’बीजेपी का वह नेता मुझसे मिलने की बहुत कोशिश कर रहा है। वह धमकी दे रहा है कि यह सरकार टिकनेवाली नहीं है। सरकार गिराने की हमारी तैयारी पूरी हो चुकी है। मेरे पास आईडी, सीबीआई और आयकर विभाग हैं। हम आपलोगों को चैन से रहने नहीं दूंगा।  लेकिन मैंने आज तक उसे देखा नहीं है। मैं  भी उसका बाप हूं।’

ये भी पढ़ेंः इसलिए चीनियों की भारत में नो एंट्री!

22 नेताओं कि लिस्ट में कौन-कौन?
राऊत ने दावा किया कि उस नेता ने उनको जो 22 नेताओं की लिस्ट दिखाई,उनमें शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के विधायकों के नाम हैं। राऊत ने उस नेता की धमकी के बारे में बोलते हुए कहा,’ इन विधायकों पर ईडी से दबाव बनाकर इस्तीफा लिया जाएगा, उसके बाद महाविकास आघाड़ी की सरकार गिरा दी जाएगी। उसका दावा है कि प्रताप सरनाईक तो टोकन मात्र हैं। हम सरकार गिराए बिना दम नहीं लेंगे’।

डेडलाइन पार
संजय राऊत ने कहा कि लेकिन उस नेता का यह दावा फेल हो गया है, क्योंकि उसने इसके लिए नवंबर में डेडलाइन दी थी। लेकिन ईडी द्वारा महाविकास आघाड़ी के नेताओं को समन भेजकर परेशान करने का खेल जारी है। मैं ये पिछले एक साल से देख रहा हूं। शरद पवार, प्रफुल पटेल, प्रताप सरनाईक और अब मैं। ये वही लोग हैं, जिन्होंने महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी की सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। लेकिन ऐसे नोटिस से सरकार नहीं गिरेगी।

ये भी पढ़ेंः इसलिए चीनियों की भारत में नो एंट्री!

महिलाओं को निशाना बनाकर खेलना बंद करो
संजय राऊत ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा, ‘महिलाओं को निशाना बनाकर खेल करना बंद करो। मुझे बोलने पर मजबूर मत करो। मेरे पास बीजेपी के नेताओं की संपत्ति 1600 फीसदी कैसे बढ़ गई, इसका पूरा ब्यौरा है। ईडी बीजेपी का तोता है, तो भी इसके प्रति मेरे मन में सम्मान है। क्योंकि यह एक सरकारी संस्थान है। मेरे पास बीजेपी के 120 नेताओं की लिस्ट है। ये सभी ईडी के रडार पर हो सकते हैं। मै जिस दिन अपने पर आ जाऊंगा, उस दिन बीजेपी के कई बड़े नेता नीरव मोदी और विजय माल्या की तरह विदेश भागने पर मजबूर हो जाएंगे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here