Shaheed Latif Killed: पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तान में ढेर, अज्ञात हमलावरों ने मारी गोली

शाहिद लतीफ को 1994 में आतंकवाद के आरोप में भारत में गिरफ्तार किया गया था। लतीफ करीब 16 साल तक भारतीय जेल में कैद रहा।

175

पठानकोट (Pathankot) हमले का मास्टरमाइंड (Mastermind) और भारत (India) का मोस्ट वांटेड आतंकी शाहिद लतीफ (Terrorist Shahid Latif) की पाकिस्तान (Pakistan) में हत्या (Murder) कर दी गई है। 2016 में पंजाब के पठानकोट के एयरबेस पर आतंकी हमला हुआ था। यह हमला आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद (Terrorist Organization Jaish-e-Mohammed) ने किया था। इस हमले में भारतीय सेना के सात जवान वीरगति को प्राप्त हुए थे। एनआईए (NIA) की जांच से पता चला था कि इस हमले का मास्टरमाइंड शाहिद लतीफ ही था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अज्ञात हमलावरों ने पाकिस्तान की एक मस्जिद में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें- ODI World Cup 2023: अफगानिस्तान ने जीता टॉस, भारतीय टीम में हुआ बदलाव

पाकिस्तान में बनाई थी हमले की योजना
एनआईए की जांच में यह भी पता चला कि पाकिस्तान में आतंकवादी हमले की योजना बनाई गई और उसे अंजाम दिया गया। आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने हमलों को अंजाम देने के लिए चार आतंकवादियों को प्रशिक्षित किया था और भेजा था। अवशेषों की जांच से पता चला कि जिन मछुआरों ने हमलों को अंजाम देने के लिए भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी, उनके मास्टरमाइंड और उपनाम सभी पाकिस्तान में स्थित थे।

मोर गांव का रहने वाला लतीफ
शाहिद लतीफ पाकिस्तान के गुजरांवाला के अमीनाबाद कस्बे के मोर गांव का रहने वाला था। शाहिद लतीफ को जैश के लॉन्चिंग कमांडर के तौर पर जाना जाता है।

भारत में गिरफ्तार हो चुका शाहिद
लतीफ को नवंबर 1994 में भारत में गिरफ्तार किया गया था और मुकदमा चलाया गया था। भारत में सजा पूरी होने के बाद 2010 में उसे पाकिस्तान भेज दिया गया था। एनआईए के अनुसार, भारत से निकाले जाने के बाद शाहिद लतीफ वापस पाकिस्तान की जिहादी आतंकियों के साथ मिल गया था। उसने पठानकोट आतंकी हमले में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.