UGC ने जारी की गाइड लाइन, महाविद्यालयों को करना होगा ये काम, कम होगी छात्रों की टेंशन

यूजीसी ने अपनी गाइड लाइन में कहा है कि सभी महाविद्यालयों को अपने संस्थान से जुड़ी मूलभूत जानकारियां (basic information) अपनी वेबसाइट (Website) पर उपलब्ध करानी होगी।

155

यूजीसी (UGC) ने राज्य विश्वविद्यालयों (universities), डीम्ड विश्वविद्यालयों और निजी विश्वविद्यालयों के साथ संबंद्ध सभी महाविद्यालयों के लिए एक गाइड लाइन (guidelines) जारी की है। इस गाइड लाइन से छात्रों (students’)और अभिभावकों को किसी विश्वविद्यालय या महाविद्यालय में दाखिला लेने से पहले उसके बारे में जानने में काफी सहूलियत होगी। यूजीसी ने अपनी गाइड लाइन में कहा है कि सभी महाविद्यालयों को अपने संस्थान से जुड़ी मूलभूत जानकारियां (basic information) अपनी वेबसाइट (Website) पर उपलब्ध करानी होगी।

संस्थानों को अपनी वेबसाइट पर देनी होगी ये जानकारियां
यूजीसी की गाइड लाइन के अनुसार सभी विश्वविद्यालयों को अपनी विकास योजनाओं, वार्षिक रिपोर्ट, सम्बद्ध कॉलेज और अन्य कैंपस, विश्वविद्यालय की संरचना, कुलपति, उप-कुलपति, लाइब्रेरी, रजिस्ट्रार, वित्त अधिकारी, परीक्षा नियंत्रक, मुख्त सतर्कता अधिकारी, लीडरशिप (डीन, विभागाध्यक्ष, विभाग, केंद्र के साथ ही एडमिशन, दाखिले के नियम, फीस, फीस रिफंड के नियम, आदि की समुचित जानकारी अपने शिक्षण संस्थान की वेबसाइट पर देनी होगी। इसके अलावा अपने संस्थान में आरटीआई, नोटिस और रिजर्वेशन रोस्टर आदि की भी स्पष्ट सूचना अपनी वेबसाइट पर पोस्ट करनी होगी। साथ उन्हें रैंकिंग से लेकर, कोर्सेस, फीस, कैलेंडर, हॉस्टल, फेलोशिप, स्कॉलरशिप और संस्थान से संपर्क के लिए मेल आईडी सहित पूरा विवरण देना होगा।

छात्र-अभिभावक होते थे परेशान
गाइड लाइन की प्रासंगिकता के बाबत यूजीसी के अध्यक्ष का कहना है कि एक तो संस्थानों की वेबसाइट अपडेट नहीं रहती, दूसरे उस पर अपर्याप्त जानकारी ही उपलब्ध रहती है। ऐसे में छात्रों और उनके अभिभावकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए विश्वविद्यालयों की वेबसाइट अपडेटेड रहना जरूरी हो जाता है।

यह भी पढ़ें – ODI World Cup 2023: अफगानिस्तान ने जीता टॉस, भारतीय टीम में हुआ बदलाव

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.