रेलवे ने बनाया ऐसा कीर्तिमान!

रेल मंत्री ने बताया कि आखिरी बार किसी रेल यात्री की मौत 22 मार्च 2019 को हुई थी। उसके बाद रेल दुर्घटना में किसी यात्री की मौत नहीं हुई है।

रेलवे ने एक नया कीर्तिमान बनाया है। पिछले 22 महीनों में एक भी पैसेंजर की रेल दुर्घटना में मौत नहीं हुई है। ये जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने राज्य सभा में दी है। रेल मंत्री ने बताया कि आखिरी बार किसी रेल यात्री की मौत 22 मार्च 2019 को हुई थी। उसके बाद रेल दुर्घटना में किसी यात्री की मौत नहीं हुई है।

पीयूष गोयल ने राज्य सभा को बताया कि यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए जिस नया बोर्ड का गठन किया गया है, उसमें सुरक्षा के लिए भी डायरेक्टर जनरल की जगह बनाई गई है, ताकि इस पर ज्यादा ध्यान फोकस किया जा सके। बता दें कि भारतीय रेलवे में हादसे पटरियों से ट्रेन के उतरने के कारण होती हैं।

हादसों को कंट्रोल करने की कोशिश जारी
गोयल ने बताया कि मोदी सरकार की तरफ से लगातार कोशिश की जा रही है कि रेलवे हादसों को कम किया जाए।
सरकार का दावा है कि मानवरहित फाटक हो, पटरियों का आघुनिकीकरण हो या फिर कोई अन्य मुद्दा हो, रेलवे को सुरक्षित करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। बता दें कि कोरोना काल में लंबे समय तक ट्रेन सेवा बंद रही। हालांकि लॉकडाउन हटने के बाद धीरे-धीरे कुछ रुटों पर ट्रेन सेवा शुरू की गई है। लेकिन अभी भी यह सामन्य नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़ेंः सोशल मीडिया, फेक न्यूज, सरकार और सर्वोच्च न्यायालय!… जानिये क्या है मामला

70 फीसदी तक सेवाएं शुरू
राज्यसभा में सदस्यों ने यह दावा करते हुए हंगामा किया कि महामारी के कारण ट्रेन सेवाओं को बंद कर दिया गया था। इस पर मंत्री ने कहा कि कुछ सदस्य याद नहीं करते कि ट्रेन सेवा मार्च 2020 से पहले सामान्य थी और फिर अप्रैल से सेवाएं शुरू कर दी गई हैं। वर्तमान में 70 फीसदी तक सेवाएं उपलब्घ कराई जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here