पाकिस्तान समर्थित गजवा-ए-हिंद मॉड्यूल मामले में एनआईए ने मध्य प्रदेश के देवास जिले में की छापेमारी

संदिग्ध से चार घंटे तक पूछताछ, दस्तावेज और डिजिटल उपकरण जब्त।

550
एनआईए

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (National Investigation Agency) ने रविवार को पाकिस्तान (Pakistan) समर्थित गजवा-ए-हिंद मॉड्यूल मामले (Ghazwa-e-Hind Module Case) में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के देवास जिले (Dewas District) में भी छापामार कार्रवाई की है। टीम ने यहां से एक संदिग्ध को हिरासत (Detention) में लेकर पूछताछ की और उसके यहां से कुछ दस्तावेज और डिजिटल उपकरण जब्त किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार, एनआईए ने पाकिस्तान समर्थित गजवा-ए-हिंद मामले में मध्य प्रदेश समेत चार राज्यों में छापामार कार्रवाई की है। एनआईए की टीम रविवार को देवास जिले सतवास पहुंची और यहां लियाकत पुत्र इदु के घर दबिश दी। तीन सदस्यीय टीम ने यहां से कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज और डिजिटल उपकरण जब्त किए हैं। एनआईए की टीम ने लियाकत को हिरासत में लेकर करीब चार घंटे उससे पूछताछ की और बाद में उसे मुख्यालय में हाजिर होने का नोटिस देकर छोड़ दिया गया। एनआईए के अधिकारियों ने लियाकत का मोबाइल भी जब्त किया है।

यह भी पढ़ें- Mumbai Attack: Do Not Forget, Do Not Forgive कार्यक्रम में 26/11 हमले के हुतात्माओं को दी गई श्रद्धांजलि

एनआईए सूत्रों से मिला जानकारी के अनुसार, जांच एजेंसी की अलग-अलग टीमों ने रविवार को मध्य प्रदेश के देवास जिले के अलावा, गुजरात के गिर सोमनाथ, उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ और केरल के कोझिकोड जिले में संदिग्धों के ठिकानों पर छापेमारी की है। कार्रवाई के दौरान मोबाइल फोन और सिम कार्ड के अलावा कई दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं। बताया गया है कि जिन लोगों की तलाशी ली गई है, वे संदिग्ध गजवा-ए-हिंद के कट्टरपंथी, भारत-विरोधी विचार का प्रचार-प्रसार करने में शामिल थे।

बताया जा रहा है कि यह कार्रवाई बिहार के पटना जिले में करीब डेढ़ साल पहले गिरफ्तार किए गए आंतकियों से मिले इनपुट के आधार पर की गई है। गौरतलब है कि पटना के फुरवारी शरीफ से यानी 14 जुलाई 2022 को मरगूब अहमद दानिश उर्फ ताहिर को गिरफ्तार किया गया था।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.