Maharashtra: नांदेड़ सरकारी अस्पताल मामला, डॉक्टर और डीन के खिलाफ FIR दर्ज

महाराष्ट्र के नांदेड़ सरकारी हॉस्पिटल में 31 मरीजों की मौत को लेकर प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है।

61

बीते दिनों महाराष्ट्र (Maharashtra) के नांदेड़ जिले (Nanded District) के डॉ. शंकरराव चव्हाण सरकारी मेडिकल कॉलेज (Dr. Shankarrao Chavan Government Medical College) और अस्पताल (Hospital) में 31 मरीजों (Patients) की मौत (Death) के मामले में अस्पताल के डीन श्यामराव वाकोडे (Dean Shyamrao Wakode) और अस्पताल के एक अन्य डॉक्टर (Doctor) के खिलाफ धारा 304 के तहत मामला दर्ज (Case Registered) किया गया है और भारतीय दंड संहिता की धारा 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। 31 मरीजों में 16 बच्चे थे। मृतक के परिवार की ओर से प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।

गौरतलब हो कि ठाणे महानगरपालिका के छत्रपति शिवाजी महाराज अस्पताल में एक ही रात में 18 मरीजों की मौत की घटना हुई थी। यह घटना अब नांदेड़ में दोहराई गई है। नांदेड़ शहर के सरकारी अस्पताल में एक दिन में 31 लोगों की मौत हो गई है। चौंकाने वाली बात ये है कि इसमें 16 नवजात भी शामिल हैं। कई लोगों का कहना है कि अस्पताल में दवाओं की कमी के कारण मरीजों की जान चली गयी है। इसे लेकर नागरिकों में आक्रोश बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें- भारतीय नौसेना की बड़ी सफलता, युद्धक जहाजों पर ड्रोन हमले से बचाने के लिए विकसित किया हथियार

दवाओं की आपूर्ति नहीं होने से मरीजों की मौत
इस प्रकार, डॉ. शंकरराव चव्हाण सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के संस्थापक एस.आर. वाकोडे समेत बाल रोग विभाग के एक डॉक्टर के खिलाफ अनजाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया है। हाफकीन द्वारा दवाओं की खरीद बंद करने से राज्य भर के सरकारी अस्पतालों में दवाओं की भारी कमी हो गई है। आरोप लगाया जा रहा है कि अस्पताल में समय पर दवाओं की आपूर्ति नहीं होने के कारण मरीजों की जान चली गयी है।

जांच करने की मांग
नांदेड़ में हुई इन सभी घटनाओं के कारण स्वास्थ्य व्यवस्था के प्रबंधन को लेकर नाराजगी व्यक्त की जा रही है। साथ ही इस मामले की जांच करने की भी मांग की गई है।

देखें यह वीडियो-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.