गुनाहों का पुजारी अब मुंबई पुलिस की कस्टडी में!

गैंगस्टर रवि पुजारी को मुंबई के गजाली होटल में 2016 में हुई फायरिंग मामले में 9 मार्च तक पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया गया है।

गैंगस्टर रवि पुजारी को 9 मार्च तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है। उसे मुंबई के गजाली होटल में 2016 में हुई फायरिंग मामले में पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया गया है। 23 फरवरी को उसे मुंबई के सेशंस कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे 9 मार्च तक पुलि हिरासत में रखने का आदेश दिया।

अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी की कस्टडी आखिरकार मुंबई पुलिस को मिल गई है। एडिशनल सेशन जज ने इस बारे में एक आदेश जारी करते हुए कर्नाटक जेल प्रशासन को पुजारी की कस्टडी मुंबई पुलिस को देने को कहा था।

अपराध शाखा के प्रमुख मिलिंद भारंबे ने यह बताते हुए कहा कि मुंबई पुलिस को वर्ष 2016 के गजाली शूटआउट केस में रवि पुजारी को हिरासत लेने में सफलता हासिल हुई है। गजाली मुंबई के विले पार्ले में स्थित होटल है।

7 आरोपी हो चुके हैं गिरफ्तार
पांच साल पहले मुंबई के गजाली होटल में हुए शूट आउट मामले में सात आरोपी पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं। रवि पुजारी को लगभग दो साल पहले सेनेगल में गिरफ्तार किया गया था। उसके कुछ महीनों बाद उसे भारत में प्रत्यर्पित कर दिया गया था। पहले कर्नाटक पुलिस ने उसकी कस्टडी ली थी। अब मुंबई पुलिस ने इसे हिरासत में लिया है।

78 मामले दर्ज
बता दें कि कि मुंबई में उसके खिलाफ 78 मामले दर्ज हैं। इनमें से 49 केसों में वह सीधे तौर पर जुड़ा है। कई केसों में उस पर मकोका लगाया गया है। मुंबई क्राइम ब्रांच एक-एक कर उसकी अलग-अलग मामले में कस्टडी लेगी। अगले कुछ महीनों तक वह मुंबई पुलिस की कस्टडी में रहेगा। बाद में उसे जेल भेज दिया जाएगा। कर्नाटक में उसके खिलाफ 97 मामले दर्ज हैं।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली हिंसाः ऐसे गिरफ्तार हुए दो और आरोपी!

महेश भट्ट की हत्या की साजिश रचने का आरोप
रवि पुजारी पर एक मामला फिल्म फायनैंसर अली मोरानी के बंगले पर हुई फायरिंग से जुड़ा है। इस केस में कुछ महीने पहले रवि पुजारी के साथी ओबेद रेडियोवाला को अमेरिका से भारत प्रत्यर्पित किया गया था। पुजारी पर मोरानी के आलावा बॉलीवुड के निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट की हत्या की साजिश रचने का भी आरोप है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here