Saharanpur: यूपी एटीएस के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, ‘Ghazwa-e-Hind’ पर की ये बड़ी कार्रवाई

यूपी के देवबंद में 'गजवा ए हिंद' के दो स्लीपर सेल को यूपी एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है।

61

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सहारनपुर (Saharanpur) में एक बार फिर आतंकवाद निरोधी दस्ते (Anti Terrorism Squad) को बड़ी सफलता मिली है। एटीएएस ने यहां देवबंद से दो बांग्लादेशी युवकों (Bangladeshi Youth) को गिरफ्तार (Arrested) किया है। ये दोनों बदमाश पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे आतंकी हैंडलर के निर्देश पर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले थे। इसके लिए इन बदमाशों ने स्लीपर सेल नेटवर्क (Sleeper Cell Network) तैयार किया था। एटीएस को इन दोनों के पास से देश विरोधी गतिविधियों से जुड़े कई इलेक्ट्रॉनिक और मैनुअल दस्तावेज बरामद हुए हैं। अब इनके नेटवर्क से जुड़े लोगों की तलाश की जा रही है।

एटीएस सूत्रों के अनुसार, पकड़े गए दोनों युवक देवबंद की मदीना कॉलोनी में रहते हैं। शक के आधार पर दोनों पर कई दिनों तक इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस किया गया। एटीएस के साइबर विशेषज्ञ उनकी हर हरकत पर नजर रखे हुए थे। इस दौरान सोशल मीडिया पर एक चैट कैद हो गई, जो उसने अपने हैंडलर से की थी। इसके बाद एटीएस की टीम ने छापेमारी कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया। स्थानीय पुलिस के अनुसार, गिरफ्तारी के बाद एटीएस की टीम दोनों को अज्ञात स्थान पर ले गई है, जहां उनसे पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी पहुंचे पिथौरागढ़, पार्वती कुंड में की पूजा-अर्चना

पुलिस के अनुसार, इन बदमाशों के पास से बांग्लादेशी नागरिकता के सबूत के साथ-साथ भारतीय आधार कार्ड, पैन कार्ड और अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, ये दोनों युवक पाकिस्तान के किसी आतंकी संगठन से जुड़े हैं और सोशल मीडिया के अलावा कई अन्य माध्यमों से उनके संपर्क में थे। यहां इन दोनों युवकों को। ‘गजवा-ए-हिंद’ मिशन पर भेजा गया था। ये दोनों करीब दो साल पहले इसी मिशन पर देवबंद आए थे और स्लीपर सेल नेटवर्क तैयार करने में जुटे थे।

स्लीपर सेल नेटवर्क
दोनों युवकों ने हाल ही में शामली में कुछ युवकों से संपर्क किया था। उन्हें अपने नेटवर्क से जोड़ने की कोशिश कर रहे थे। इन्हें इनपुट के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। एटीएस अधिकारियों के मुताबिक, गिरफ्तार आतंकियों से उनके संगठन के बारे में जानकारी ली जा रही है।

वहीं, पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने देवबंद और आसपास के इलाकों में छापेमारी तेज कर दी है। आपको बता दें कि इससे पहले भी यूपी एटीएस ने देवबंद से कई संदिग्ध बांग्लादेशियों को गिरफ्तार किया है। देवबंद में आमतौर पर दुनिया भर से छात्र पढ़ने आते हैं। पढ़ाई की आड़ में आतंकी भी यहां आते हैं और वारदातों को अंजाम देते रहते हैं। इस वजह से देवबंद हमेशा से एनआईए और एटीएएस के निशाने पर रहा है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.