ऐसे शुरू की गई पांच राज्यों में चुनाव की तैयारी!

विधानसभा चुनाव के लिए केंद्र सराकर के आदेश पर 45 कंपनियां तमिलनाडु में , 40 असम में , 10 पुडुचेरी में, 125 पश्चिम बंगाल में और 30 कंपनियां केरल में तैनात की जाएंगी।

देश के पांच राज्यों में अगले कुछ महीनों में चुनाव होने हैं। हालांकि अभी तक इन राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन राजनैतिक पार्टियों के साथ ही केंद्र सरकार और चुनाव आयोग ने चुनाव की तैयारी युद्ध स्तर पर शुरू कर दी है। इसी कड़ी में इन राज्यो में शांतिपूर्ण चुनाव सुनिश्चित करने के लिए सीएपीएफ की करीब 250 कंपनियों को तैनात किया जा रहा है।

केंद्र सराकर के आदेश पर 45 कंपनियां तमिलनाडु में, 40 असम में , 10 पुडुचेरी में, 125 पश्चिम बंगाल में और 30 कंपनियां केरल में तैनात की जाएंगी। मिली जानकारी के अनुसार केंद्रीय सुरक्षा बलों की कम से कम 125 कंपनियां पश्चिम बंगाल 25 फरवरी को पहुंचेगी। वहीं पश्चिम बंगाल में सुरक्षा बलों की 20 कंपनियां पहुंच चुकी हैं।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लिया निर्णय
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कानून-व्यवस्था की स्थिति सुनिश्चित करने के लिए इन जवानों को चुनाव से पहले बंगाल भेजने का निर्णय लिया है। बता दें कि इन राज्यों में अप्रैल से मई के बीच चुनाव होने हैं। पश्चिम बंगाल का चुनावी इतिहास काफी हिंसापूर्ण रहा है। इस चुनाव से पहले भी वहां हिंसा की काफी घटनाएं घट रही हैं। एक अनुमान के तहत पिछले तीन महीनों में पश्चिम बंगाल में 100 से ज्यादा राजनैतिक हत्याएं हो चुकी हैं। भारतीय जनता पार्टी का आरोप है कि हिंसा में मारे गए ज्यादातर उसकी पार्टी के नेता-कार्यकर्ता रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः बढ़ते कोरोना संक्रमण ने ऐसे बढ़ाई मुंबईकरों की टेंशन!

लोगों में विश्वास पैदा करना जरुरी
केंद्रीय सुरक्षा बल लोगो मे विश्वास पैदा करने के लिए आगमन के बाद तत्काल विभिन्न क्षेत्रों में मार्च शुरू कर देंगे। बता दें कि तमिलनाडु में 24 मई, केरल में 1 जून, पश्चिम बंगाल में 30 मई, पुडुचेरी में 8 जून और असम में 31 मई को विधानसभा का कार्यकाल खत्म होने जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here