राम मंदिर निर्माणः एमपी के लोगों ने खोली अपनी तिजोरी!

अयोध्या में निर्मित होनेवाले राम मंदिर के लिए तीर्थ न्यास क्षेत्र की ओर से देश भर में धन संग्रह अभियान चलाया जा रहा है। यह अभियान 14 फरवरी को पूरा होने जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में राम मंदिर के निर्माण के लिए मध्य प्रदेश के लोगों नें अब तक 100 करोड़ डोनेट किया है। विश्व हिंदू परिषद से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार यह राशि प्रदेश की जनसंख्या की 50 फीसदी जनता की मदद से ही एकत्रित की गई है। आनेवाले कुछ दिनों में यह आंकड़ा 120 करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है।

14 फरवरी को पूरा होने जा रहा है अभियान
बता दें कि अयोध्या में निर्मित होनेवाले राम मंदिर के लिए तीर्थ न्यास क्षेत्र की ओर से देश भर में धन संग्रह अभियान चलाया जा रहा है। यह अभियान 14 फरवरी को पूरा होने जा रहा है। मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह के पूरे अभियान की जिम्मेदारी विश्व हिंदू परिषद को सौंपी गई है।

ये भी पढ़ेंः किसान आंदोलन : जिन पर आभिमान है उन्हीं का अपमान, जानें कैसे है ये अंतरराष्ट्रीय साजिश का हिस्सा?

25 हजार वॉलिंटियर कर रहे हैं काम
मध्य प्रदेश की बात करें तो इस अभियान में करीब 25 हजार वॉलिंटियर काम कर रहे हैं। इसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व उससे जुड़े अन्य संगठनों के साथ ही भाजपा का पूरा कैडेट इस काम में लगा हुआ है। धनसंग्रह अभियान में विधायक, सांसद, प्रदेश व जिले के पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष के साथ ही एनजीओ भी शामिल हैं।

10 लोगों ने दान किए एक-एक करोड़ रुपए
बता दें कि 15 जनवरी को जब धन संग्रह अभियान का शुभारंभ किया गया था तो एमपी में कुल 80 से 100 करोड़ राशि जमा करने का लक्ष्य रखा गया था,लेकिन प्रदेश में एक करोड़ से अधिक धन देनेवालों की संख्या ही 10 पहुंच गई। साथ ही एक करोड़ रुपए से नीचे व एक लाख रुपए या इससे अधिक सहयोग करनेवालों की संख्या तीन हजार से अधिक पहुंच गई। इस कारण लक्ष्य समय सीमा से पहले ही पूरा हो गया।

ये भी पढ़ेंः रत्न बताएं देश का समर्थन क्यों किया?

फिर से मंगवाई गईं रसीद
एमपी में श्री रामजन्म न्यास से 10 रुपए से लेकर एक हजार रुपए तक की रसीद मंगाई गई थी। अब इसमें से सौ व एक हजार की रसीद खत्म हो जाने के बाद दोबारा मंगवाई गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here