रियालंस ने मेट्रो इंडिया के भारतीय कारोबार को ‘इतने’ करोड़ में खरीदा!

जर्मन कंपनी मेट्रो एजी ने 2003 में कैश-एंड-कैरी बिजनेस फॉर्मेट के रूप में भारत में अपना कारोबार शुरू किया था।

13

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) ने जर्मन कंपनी मेट्रो कैश एंड कैरी इंडिया लिमिटेड (मेट्रो इंडिया) को खरीद लिया है। आरआरवीएल और मेट्रो इंडिया के बीच यह सौदा 2,850 करोड़ रुपये में पूरा हुआ है।

रिलायंस रिटेल ने गुरुवार को बताया कि आरआरवीएल ने मेट्रो कैश एंड कैरी इंडिया में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए 2,850 करोड़ रुपये में एक पक्का समझौता किया है। आरआरवीएल ने इसके लिए मेट्रो कैश एंड कैरी के साथ समझौते पर हस्ताक्षरण किया है। इस डील में मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी ने अहम भूमिका निभाई है।

यह भी पढ़ें – अब सीमा की सुरक्षा करेंगे गरुण कमांडो, जानें कहां किया गया तैनात

जर्मन कंपनी ने 2003 में शुरू किया था कारोबार
बता दें कि जर्मन कंपनी मेट्रो एजी ने 2003 में कैश-एंड-कैरी बिजनेस फॉर्मेट के रूप में भारत में अपना कारोबार शुरू किया था। फिलहाल यह कंपनी लगभग 3,500 कर्मचारियों के साथ 21 शहरों में 31 बड़े स्टोर को संचालित करती है। वित्त वर्ष 2021-22 (सितंबर 2022 को समाप्त वित्तीय वर्ष) में मेट्रो इंडिया ने 7,700 करोड़ रुपये की बिक्री की है, जो भारत में उसका अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.