Mathura, Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के मथुरा में 10 घूमने लायक जगहें

(Mathura Uttar Pradesh) पौराणिक और ऐतिहासिक महत्व से भरपूर शहर मथुरा, भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित है। जानिए कौनसी है मथुरा में घूमने लायक 10 जगहें -

85

Mathura, Uttar Pradesh:

Mathura Uttar Pradesh पौराणिक और ऐतिहासिक महत्व से भरपूर शहर मथुरा (Mathura), भारत के उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) राज्य में स्थित है। भगवान कृष्ण (Lord Krishna) की जन्मस्थली के रूप में प्रसिद्ध मथुरा हिंदू धर्म में एक प्रमुख स्थान रखता है। यमुना (Yamuna) नदी के तट पर बसा यह शहर हिंदू परंपरा में सात पवित्र शहरों में से एक है। इसका आध्यात्मिक माहौल कई मंदिरों, घाटों और त्योहारों से समृद्ध है, जो हर साल लाखों भक्तों (Devotees) को आकर्षित करते हैं।

यह भी पढ़ें : नरेंद्र मोदी 3.0 कैबिनेट: पहली बार बने लोकसभा सांसद

श्री कृष्ण जन्मभूमि (Mathura Uttar Pradesh)मंदिर परिसर ठीक उसी स्थान को चिह्नित करता है जहाँ माना जाता है कि भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था, जो इसे मथुरा में सबसे अधिक पूजनीय स्थल बनाता है। अपनी शानदार वास्तुकला के साथ द्वारकाधीश मंदिर और अपनी शांतिपूर्ण शाम की आरती के लिए प्रसिद्ध विश्राम घाट भी प्रमुख आकर्षण हैं। पास में, गोवर्धन पहाड़ी और राधा कुंड कृष्ण के बचपन और दिव्य क्रीड़ा से जुड़े महान धार्मिक महत्व के स्थल हैं।

मथुरा के समृद्ध सांस्कृतिक ताने-बाने को मथुरा संग्रहालय द्वारा और भी उजागर किया गया है, जिसमें क्षेत्र की ऐतिहासिक और कलात्मक विरासत को प्रदर्शित करते हुए इसके अतीत की कलाकृतियों का एक व्यापक संग्रह है। शहर का जीवंत माहौल पारंपरिक संगीत, नृत्य और जन्माष्टमी और होली जैसे त्योहारों के आनंदमय उत्सवों से जीवंत है। मथुरा की आध्यात्मिकता, इतिहास और संस्कृति का मिश्रण इसे आगंतुकों के लिए एक आकर्षक गंतव्य बनाता है। (Mathura Uttar Pradesh)

उत्तर प्रदेश के मथुरा में 10 घूमने लायक जगहें : 

1. श्री कृष्ण जन्मभूमि: भगवान कृष्ण की जन्मस्थली (Mathura Uttar Pradesh), यह मंदिर परिसर मथुरा में सबसे पूजनीय स्थल है।
2. द्वारकाधीश मंदिर: अपनी सुंदर वास्तुकला और जीवंत उत्सवों के लिए प्रसिद्ध, यह मंदिर भगवान कृष्ण को समर्पित है।
3. विश्राम घाट: मथुरा का मुख्य घाट जहाँ तीर्थयात्री यमुना नदी में पवित्र स्नान करते हैं। यह शाम की आरती के लिए भी जाना जाता है। (Mathura Uttar Pradesh)
4. गोवर्धन पहाड़ी: भगवान कृष्ण द्वारा ग्रामीणों को तूफ़ान से बचाने के लिए पहाड़ी को उठाने से जुड़ा एक पवित्र स्थल, मथुरा से लगभग 22 किमी दूर स्थित है।
यह भी पढ़ें : MP Council of Ministers: अगर आप स्वास्थ्य विभाग में बनना चाहते हैं डॉक्टर-नर्स तो यह खबर जरुर पढ़ें
5. राधा कुंड: एक पवित्र झील जिसे सभी कुंडों में सबसे पवित्र माना जाता है, जो राधा और कृष्ण की लीलाओं से जुड़ी है। (Mathura Uttar Pradesh)
6. गीता मंदिर: बिरला मंदिर के नाम से भी जाना जाने वाला यह मंदिर जटिल नक्काशी को दर्शाता है और इसमें भगवान कृष्ण की एक बड़ी मूर्ति है।
7. कुसुम सरोवर: ऐतिहासिक महत्व वाला एक सुंदर जलाशय, जो बलुआ पत्थर की संरचनाओं और हरे-भरे बगीचों से घिरा हुआ है।
8. रंगजी मंदिर: भगवान रंगजी (विष्णु) को समर्पित यह एक अनूठा मंदिर है जिसमें दक्षिण भारतीय वास्तुकला और पारंपरिक उत्तर भारतीय शैली का मिश्रण है।
9. मथुरा संग्रहालय: इसमें प्राचीन मूर्तियों, सिक्कों और कलाकृतियों का एक प्रभावशाली संग्रह है जो इस क्षेत्र के समृद्ध इतिहास को दर्शाता है। (Mathura Uttar Pradesh)
10. नंदगांव: वह गांव जहां भगवान कृष्ण ने अपना बचपन बिताया। इसमें कृष्ण और उनके पालक पिता नंद महाराज को समर्पित कई मंदिर हैं। (Mathura Uttar Pradesh)
ये आकर्षण धार्मिक, ऐतिहासिक और सांस्कृतिक अनुभवों का मिश्रण प्रदान करते हैं, जो मथुरा को आगंतुकों के लिए एक आकर्षक गंतव्य बनाते हैं। (Mathura Uttar Pradesh)
यह भी देखें :
Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.