जम्मू में स्वातंत्र्यवीर सावरकर के पौत्र का भव्य स्वागत

स्वातंत्र्यवीर सावरकर के पौत्र रणजीत सावरकर का जम्मू में भव्य स्वागत किया गया। हवाई अड्डे पर पहले से ही प्रतीक्षा कर रहे सावरकर स्नेहियों ने गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया।

स्वातंत्र्यवीर सावरकर के आत्मार्पण दिवस के एक दिन पहले 25 फरवरी को जम्मू पहुंचे उनके पौत्र रणजीत सावरकर का भव्य स्वागत किया गया। हवाई अड्डे के बाहर उनके पहुंचने से पहले ही बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। रणजीत सावरकर के वहां पहुंचते ही जम्मू के सावरकर स्नेहियों ने अपना हर्ष गुलदस्तों के माध्यम से प्रकट किया।

जम्मू में पहली शाखा की स्थापना
स्वातंत्र्यवीर सावरकर राष्ट्रीय स्मारक की जम्मू में पहली शाखा की स्थापना हो रही है। इसके एक दिन पहले रणजीत सावरकर, मंजिरी मराठे, स्वप्निल सावरकर, राजेंद्र वराडकर जम्मू पहुंचे। स्वातंत्र्यवीर सावरकर के आत्मार्पण दिवस पर यहां एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम का फेसबुक लाइव के जरिये सीधा प्रसारण भी किया जाएगा।

ये खबर मराठी में भी पढ़ेंः स्वातंत्र्यवीर सावरकरांचे नातू रणजीत सावरकरांचे जम्मूत भव्य स्वागत!

ये भी पढ़ेंः ‘सावरकर’ हैं राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रतीक!

वाचनालय की स्थापना
स्वातंत्र्यवीर सावरकर के प्रखर विचारों को जम्मू-कश्मीर में प्रसारित करने के लिए वाचनालय की स्थापना की जानी है। इसकी स्थापना 26 फरवरी 2021 को स्वातंत्र्यवीर के आत्मार्पण दिवस पर होनी है। इस कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार व हिंदू विचारक पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और रणजीत सावरकर के प्रखर विचारों को सीधे फेसबुक लाइव पर दोपहर 3.00 बजे से देखा और सुना जा सकता है। इस कार्यक्रम में इनके अलावा भी जम्मू और देश के अन्य हिस्सों की हस्तियां शामिल होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here