टूलकिट पर ट्विटर ट्यों… जानें पुलिस ने ऐसा क्यों किया?

टूलकिट को लेकर भाजपा और कांग्रेस के मध्य पिछले एक सप्ताह से कानूनी खेल चल रहा है। इसके रिलीज होने के बाद ही कांग्रेस ने दिल्ली पुलिस आयुक्त से मिलकर शिकायत दर्ज कराई थी। दूसरी शिकायत छत्तीसगढ़ में कांग्रेस छात्र संघ के अध्यक्ष ने दर्ज कराई थी। इसक उपरांत रायपुर पुलिस की ओर एक नोटिस भी संबित पात्रा और रमन सिंह के नाम से जारी हुआ है।

दिल्ली पुलिस ने ट्विटर के कार्यालय पर जाकर नोटिस दी है। यह कार्रवाई दिल्ली के लाडो सराय और गुरुग्राम क्षेत्र में स्थित कार्यालय में हुई है। इस विषय में जो जानकारी मिल पाई है उसके अनुसार ट्विटर के कार्यालय में पुलिस कांग्रेस के टूलकिट प्रकरण में गई थी।

सोमवार सायंकाल में दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा के अधिकारी ट्विटर के लाडो सराय और गुरुग्राम स्थित कार्यालय पहुंचे थे। सूत्रों के अनुसार वहां उन्होंने नोटिस दी है जो कांग्रेस के टूलकिट से संबंधित प्रकरण में है।

ये भी पढ़ें – किसान यूनियन आंदोलन: तो क्या भीड़ का इंसाफ चाहते हैं नेता?

ये है नोटिस में
दिल्ली पुलिस का नोटिस मनीष माहेश्वरी, प्रबंध निदेशक, ट्विटर इंडिया के नाम से है। इसमें लिखा गया है कांग्रेस के तथाकथित टूलकिट के प्रकरण में प्राथमिक जांच के लिए है।

कांग्रेस द्वारा जारी किये गए तथाकथित टूलकिट प्रकरण में एक प्राथमिक जांच की जा रही है। इस जांच में हमारे संज्ञान में आया कि आप सच्चाई से अवगत हैं और इस संदर्भ में आपके पास जानकारी उपलब्ध है। इसलिए आपसे निवेदन है कि आप निन्मलिखित कार्यालय में जांच के लिए समुचित कागज पत्रों के साथ 22 मई, 2021 को दोपहर 1 बजे उपस्थित रहें।

दिल्ली पुलिस का पक्ष
दिल्ली पुलिस ने इसे साधारण भेंट बताया है। उसकी ओर से बताया कि, यह आवश्यक इसलिए था कि कौन आधिकारिक रूप से जिम्मेदार है जिसे नोटिस दी जा सकती है। क्योंकि इस विषय में ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक अस्पष्ट थे।

दिल्ली पुलिस की यह भेंट भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा के ट्वीट पर मैनुपलेटेड मीडिया टैग को लेकर थी। संबित पात्रा ने एक टूलकिट ट्वीट की थी, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि कांग्रेस ने टूलकिट बनाया है जिसके माध्यम से वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बदनाम करना चाहती है।

कांग्रेस ने की थी शिकायत
भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस के लेटरहेड पर एक टूलकिट पोस्ट किया था। इसकी शिकायत कांग्रेस ने की थी। इस पर ट्विटर ने संबित पात्रा के ट्वीट पर मैनुपलेटेड मीडिया का टैक लगा दिया था।

ये भी पढ़ें – क्या कोरोना की तीसरी लहर में बच्चे होंगे ज्यादा प्रभावित? एम्स के निदेशक ने कही ये बात

ये है विवाद
भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्विटर पर 18 मई, 2021 को एक टूलकिट पोस्ट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था कि, मित्रों कांग्रेस का टूलकिट देखो महामारी में जरूरतमंदों को सहायता करने के लिए। पीआर एक्सरसाइज है, मित्रवत् पत्रकारों ओर इन्फ्लूएंन्सरों के साथ। अपने आप ही कांग्रेस का एजेंडा पढ़ें। कांग्रेस के टूलकिट का भंडाफोड़ हो गया है। राहुल गांधी महामारी का उपयोग पीएम मोदी की छवि को बिगाड़ने के लिए करना चाहते थे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आदेश दिया गया था कि कोरोना के स्ट्रेन को मोदी स्ट्रेन कहें। भारत की छवि धूमिल करने का कोई प्रयत्न विदेशी पत्रकारों की सहायता से नहीं छोड़ना चाहते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here