Ayodhya में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओ के आने की संभावना, ट्रैफिक कंट्रोल करने की ऐसी है तैयारी

2007 में कचहरी में हुए बम ब्लास्ट कांड के बाद परिसर में दो पहिया और चार पहिया वाहनों की पार्किंग पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया था।

1180

Ayodhya: रामलला के भव्य मंदिर(Grand temple of Ramlala) का उद्घाटन होने के बाद अयोध्या में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना है। इसे देखते हुए योगी सरकार अयोध्या में ट्रैफिक इन्फ्रास्ट्रक्चर(Traffic infrastructure) को मजबूत करने में जुटी हुई है।

इसी क्रम में जिला कचहरी के बाहर मुख्य मार्ग पर अधिवक्ताओं व वादकारियों के वाहनों से लगने वाले जाम से अब नगरवासियों को निजात मिलने वाली है। राज्य स्मार्ट सिटी योजना(State Smart City Scheme) अंतर्गत अयोध्या में कचहरी के बाहर मल्टी लेवल पार्किंग का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। मल्टी लेवल पार्किंग(Multi level parking) के बन जाने से अधिवक्ताओं और वादकारियों को अपने वाहन खड़ा करने के लिए सड़कों पर स्थान ढूंढने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

लंबे समय से महसूस की जा रही थी आवश्यकता
अयोध्या जनपद में कचहरी के बाहर मल्टीलेवल पार्किंग की आवश्यकता काफी लंबे समय से महसूस की जाती रही है, जिसके लिए कचहरी के पास ही मल्टी लेवल पार्किंग की बिल्डिंग बनकर तैयार हो गई है।

Mohan Yadav: मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री, जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला होंगे डिप्टी सीएम

2007 से लागू था प्रतिबंध
उल्लेखनीय है कि 2007 में कचहरी में हुए बम ब्लास्ट कांड(Bomb blast scandal) के बाद परिसर में दो पहिया और चार पहिया वाहनों की पार्किंग पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया था। जिला प्रशासन के अधिकारियों के अतिरिक्त किसी अन्य का वाहन कचहरी परिसर में दाखिल नहीं हो सकता था। इसके बाद अधिवक्ता और वादकारी सड़कों पर इधर-उधर वाहनों को खड़ा करने लगे, जिससे सड़क पर जाम की समस्या बढ़ती गई। इस समस्या का निदान करने के लिए अधिवक्ता संघ की ओर से कई बार शासन से मांग की जाती रही।

20 मार्च 2022 को मल्टी लेवल पार्किंग की बिल्डिंग का निर्माण हुआ प्रारंभ
अधिवक्ताओं की इस मांग को पूरा करने के लिए योगी सरकार ने राज्य स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत 37.08 करोड़ की लागत वाली स्मार्ट वाहन पार्किंग एवं दुकानों का निर्माण कराने की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था सीएनडीएस उत्तर प्रदेश जल निगम अयोध्या को सौंप दिया था। 20 मार्च 2022 को मल्टी लेवल पार्किंग की बिल्डिंग का निर्माण प्रारंभ हुआ। कार्य लगभग 96 प्रतिशत पूरा हो चुका है।

इस मल्टी लेवल पार्किंग में 282 चार पहिया वाहन 309 दो पहिया वाहन 15 दुकान व एक कैंटीन की व्यवस्था की गई है। इस बिल्डिंग में चार लिफ्ट भी लगाई गई है। इस के अलावा ई-चार्जिंग पॉइंट भी बनाया गया। 15 दिसंबर तक निर्माण कार्य पूरा करने की समय सीमा दी गई थी। सीमा के अंदर निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। शीघ्र ही अधिवक्ता व विवादकारी अपने वाहन मल्टी लेवल पार्किंग में खड़ी कर सकेंगे करेंगे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.