Ayodhya : दीपोत्सव की तैयारी को लेकर कुलपति ने किया घाटों का निरीक्षण, जानिये कैसी है तैयारी

कुलपति प्रो. गोयल ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दीपोत्सव ने विश्व पटल पर अमिट छाप छोड़ी है।

841

अयोध्या के प्रान्तीयकृत दीपोत्सव को लेकर डाॅ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. प्रतिभा गोयल ने सातवें दीपोत्सव की तैयारियों को लेकर 8 नवंबर की शाम राम की पैड़ी के घाटों का निरीक्षण किया।

निरीक्षण के समय दीपोत्सव नोडल अधिकारी प्रो. संत शरण मिश्र, उप-कुलसचिव दिनेश कुमार मौर्य सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ कुलपति ने घाटों पर बिछाये गए दीए के पैटर्न को देखा और वालंटियर्स, घाट प्रभारी व समन्वयकों का उत्साहवर्धन किया। इसके साथ ही उन्होंने दीपोत्सव को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किया।

अयोध्या दीपोत्सव ने विश्व पटल पर छोड़ी है अमिट छाप
कुलपति प्रो. गोयल ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दीपोत्सव ने विश्व पटल पर अमिट छाप छोड़ी है। इस दिन दुनियां की निगाहें अयोध्या पर टिकी होती है। निश्चित ही सातवां दीपोत्सव भव्यता के साथ और अधिक ऐतिहासिक बनेगा।

Bihar: विदेशी सैलानियों ने की भारत की सराहना, सनातन को लेकर कही ये बात

कुलपति ने बताया कि शासन के 21 लाख दीए जलाने के लक्ष्य के सापेक्ष विश्वविद्यालय, सम्बद्ध महाविद्यालयों, इण्टर कालेजों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के 25 हजार वालंटियर्स द्वारा 24 लाख से अधिक दीए 51 घाटों पर बिछाये जा रहे है। प्रभु श्रीराम की कृपा से निश्चित ही पिछला रिकार्ड टूटेगा और पुनः विश्व रिकार्ड बनायेंगे। विवि मीडिया प्रभारी डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी ने बताया कि 11 नवम्बर को होने वाले दीपोत्सव को लेकर वालंटियर्स में उत्साह है। जिला प्रशासन के समन्वय से अंतिम रूप दिया जा रहा है। निश्चित ही पिछला रिकार्ड तोड़ते हुए गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करेंगे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.