Bihar: विदेशी सैलानियों ने की भारत की सराहना, सनातन को लेकर कही ये बात

सिमरिया में कल्पवास कर रहे पड़ोसी देश नेपाल के सैकड़ो श्रद्धालु सहित विशेष पर्व स्नान के लिए आए बड़ी संख्या में नेपाली श्रद्धालुओं ने जहां गंगा में आस्था की डुबकी लगाई।

332

बिहार के बेगूसराय जिला में मिथिला और मगध के संगम स्थल सिमरिया गंगा धाम में लगे कुंभ ने एक नया इतिहास रच दिया है। कुंभ के द्वितीय शाही पर्व स्नान के अवसर पर 9 नवंबर को सिमरिया में ना केवल देश के सनातन धर्मावलंबियों की भीड़ जुटी। बल्कि विदेश से भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचे।

सिमरिया में कल्पवास कर रहे पड़ोसी देश नेपाल के सैकड़ो श्रद्धालु सहित विशेष पर्व स्नान के लिए आए बड़ी संख्या में नेपाली श्रद्धालुओं ने जहां गंगा में आस्था की डुबकी लगाई। वहीं, विशेष क्रूज से फ्रांस, जर्मनी, इटली, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा के भी 20 पर्यटक पहुंचे। इन लोगों ने ना केवल गंगाजल से मंत्र स्नान किया, बल्कि कुंभ और कल्पवास मेल पर क्षेत्र का भी भ्रमण किया।

धन्य है भारत और धन्य हैं भारत के सनातन
विदेश से कुंभ के पावन अवसर पर पहुंचे पर्यटकों ने कहा कि धन्य है भारत और धन्य हैं भारत के सनातन धर्मावलंबी जो किसी ना किसी पावन अवसर पर एकत्रित होते हैं। धन्य है भारत की यह भूमि जिसे खुद पापनाशनी मां गंगा ने सींचा है। भारत में बहुत जगह भ्रमण किया, लेकिन आज सिमरिया आने का मौका मिला, यहां लगा कुंभ अद्भुत है।

समुचित विकास की जरुरत
उन्होंने कहा कि सिमरिया गंगा धाम पर्यटन के हिसाब से एक अच्छी जगह है, इसका और समुचित विकास होना चाहिए। हम सब सौभाग्यशाली हैं कि सिमरिया जैसे स्थल का भ्रमण करने का मौका मिला। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अच्छे व्यक्तित्व के व्यक्ति हैं, भारत को उन पर गर्व होना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी की डिफेंस नीति काफी अच्छी है।

देश के 58 हवाई अड्डों ने बिजली खपत को पूरी तरह से हरित ऊर्जा में बदला, जानिये एएआई का क्या है लक्ष्य

सिमरिया में पर्यटकों की भीड़
इन लोगों ने कहा कि भारत के हरिद्वार और वाराणसी में गंगा तट पर काफी भीड़ होती थी। आज सिमरिया में भी अद्भुत भीड़ देखा है, सिमरिया अद्भुत है। सिमरिया धाम में लगने वाले अगले कुंभ में परिजनों के साथ आएंगे। कोलकाता की ओर से आए इन सभी सैलानियों का स्वामी चिदात्मन जी ने अंग वस्त्र से स्वागत किया।

इसके बाद सिमरिया घाट बाजार का भ्रमण करते हुए सभी विदेशी सैलानी पटना की ओर रवाना हो गए। वहीं, दूसरी ओर स्पेशल जहाज के सिमरिया पहुंचते ही गोताखोर टीम के अनिल सहित सभी सदस्य मोटर बोट के साथ इन लोगों की निगरानी में रहे तथा गंगा के अगले टर्निंग पॉइंट तक जाकर छोड़ा। वहीं, इन लोगों को देखने के लिए भी भारी भीड़ जुटी रही।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.