पश्चिम बंगाल चुनावः राजनीति में सब कुछ जायज है!

पश्चिम बंगाल में चुनाव के मद्देनजर प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जहां स्थानीय पुलिस और प्रशासन का इस्तेमाल करने के आरोप लगाए जा रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी पर भी केंद्रीय जांच एजेंसियों के इस्तेमाल करने के आरोप लग रहे हैं।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जहां हर तरह के राजनैतिक हथकंडे अपनाए जा रहे हैं, वहीं साम-दंड, भेद, भाव का इस्तेमाल कर भी एक दूसरे को मात देने की कोशिश की जा रही है। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी पर जहां स्थानीय पुलिस और प्रशासन का इस्तेमाल करने के आरोप लगाए जा रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी पर भी केंद्रीय जांच एजेंसियों के इस्तेमाल करने के आरोप लग रहे हैं।

चुनावी रंग, कर रहा है सबको दंग
बताया जा रहा है कि इसी कड़ी में जहां पश्चिम बंगाल पुलिस ने कोकेन मामले में भारतीय जनता पार्टी की युवा मोर्चा की नेता पामेला गोस्वामी के साथ ही राकेश सिंह को गिरफ्तार किया है, वहीं सीबीआई ने कोयला खनन और घोटाला मामले में ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी तथा साली पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

कोयला खनन घोटाला ममले के साथ ही अभिषेक बनर्जी की पत्नी और साली पर मनी लॉन्ड्रिंग के भी आरोप लगाए गए हैं। हालांकि इस बारे में दावे के साथ कुछ भी कहना मुश्किल है, लेकिन जानकारों का कहना है कि भविष्य में राज्य में जैसे-जैसे चुनावी रंग चढ़ेंगे, वैसे-वैसे इस तरह के मामले और बढ़ेंगे।

पामेला से मिली जानकारी के बाद राकेश सिंह गिरफ्तार
फिलहाल कथित रुप से ड्रग्स के साथ पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के अलीपुर इलाके से भारतीय जनता पार्टी की युवा नेता पामेला गोस्वामी की गिरफ्तरी के बाद राकेश सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। सिंह को भारतीय जनता पार्टी के महासचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का खास माना जाता है। राकेश के साथ ही उनके एक साथी जीतेंद्र सिंह को भी 24 फरवरी को अलीपुर कोर्ट स्थित एनडीपीएस कोर्ट में पेश किया गया। न्यायाधीश ने दोनों को 1 मार्च तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया। न्यू अलीपुर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 23 फरवरी की रात कोकेन केस में राकेश सिंह के साथ ही जीतेंद्र सिह नामक एक अन्य शख्स को भी गिरफ्तार किया गया है।

ये भी पढ़ेंः किसान आंदोलनः टिकैत ने अब ऐसे बढ़ाईं मोदी सरकार की मुश्किलें!

राकेश सिंह को ऐसे किया गया गिरफ्तार
बता दें कि राकेश सिंह की गिरफ्तारी से पहले कोकेन मामले में भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा की महिला नेता पामेला गोस्वामी को पुलिस ने उसके एक साथी के साथ गिरफ्तार किया है। पामेला ने आरोप लगाया है कि कैलाश विजयवर्गीय के खास राकेश सिंह ने उसे फंसाया है। उनके इस आरोप के बाद पुलिस ने राकेश सिंह को पूछताछ के लिए बुलाया था। लेकिन राकेश सिंह ने यह कहकर पुलिस से बचने की कोशिश की कि वह दिल्ली जा रहा है। इसके बाद पुलिस उसकी तलाश में जुट गई। मोबाइल से लोकेशन ट्रैस कर पुलिस ने उसे पूर्वी बर्दवान से गिरफ्तार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here