पीएम मोदी का तमिलनाडु-केरल दौराः ये हैं खास बातें

पीएम मोदी ने कोच्चि में बीपीसीएल की 6,000 करोड़ की प्रोपलीन डेरिवेटिव्स पेट्रोकेमिकल्स परियोजना को राष्ट्र को समर्पित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 फरवरी को तमिलनाडु और केरल के एक दिवसीय दौरे पर थे। उन्होंने जहां तमिलनाडु के चेन्नई में एक कार्यक्रम में 118 अर्जुन स्वदेशी युद्धक टैंक को भारतीय थल सेना प्रमुख एमएन नरवणे को सौंपा, वहीं केरल में कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया। बता दें कि इन दोनों राज्यों में मई-जून में विधानसभा चुनाव होने हैं। इस वजह से पीएम का इस दौरे को और विभिन्न तरह की परियोजनाओं के शिलान्यास को राजनैतिक दृष्टिकोण से देखा जा रहा है।

पीएम मोदी ने कोच्चि में बीपीसीएल की 6,000 करोड़ की प्रोपलीन डेरिवेटिव्स पेट्रोकेमिकल्स परियोजना को राष्ट्र को समर्पित किया। इसके साथ ही उन्होंने कोचीन पोर्ट पर 25 करोड़ रुपए की लागत वाले अंतर्राष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल सागरिका और कोचीन पोर्ट के पुनर्निमाण परियोजानाओं का भी शिलान्यास किया।

भारत के विकास को मिलेगी नई ऊर्जा
कोच्चि में विकास परियोजनाओं के उद्घाटन के अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि हम यहां केरल और भारत के विकास का जश्न मनाने के लिए जमा हुए हैं। आज कई क्षेत्रों में विकास कार्यो का उद्घाटन किया जा रहा है। इससे भारत के विकास को नई ऊर्जा मिलेगी।

ये भी पढ़ेंः पीएम मोदी ने 118 अर्जुन युद्धक टैंक सेना को सौंपे, जानिए कौन देश निशाने पर!

110 लाख करोड़ रुपए का निवेश
पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय पाइपलाइन के इंफ्रास्ट्रक्चर पर 110 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया जा रहा है । इसमें तटीय भागों, उत्तर पूर्व और पर्वतीय क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। वर्तमान में भारत के हर गांव में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी के महत्वकांक्षी कार्यक्रम को शुरू किया जा रहा है।

चेन्नई में मेट्रो रेल के प्रथम चरण का उद्घाटन
इससे पहले पीएम मोदी ने तमिलनाडु में चेन्नई मेट्रो रेल के पहले चरण का उद्घाटन किया। साथ ही पीएम ने आईआईटी मद्रास में एक डिस्कवरी कैंपस की आधारशिला भी रखी। कैंपस का निर्माण दो लाख वर्ग किलोमीटर मे किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here