Mann Ki Baat में प्रधानमंत्री ने दी 26/11 के शहीदों को श्रद्धांजलि, भारतीय उत्पादों को लेकर कही ये बात

26 नवंबर का आज का ये दिन एक और वजह से भी अत्यंत महत्वपूर्ण है।1949 में आज ही के दिन संविधान सभा ने भारत के संविधान को अंगीकार किया था।

717

अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)ने आज से 15 साल पहले मुंबई में हुए आतंकी हमले के शहीदों (martyrs) को अपनी श्रद्धांजलि (tribute) अर्पित करने के साथ की। पीएम मोदी ने कहा कि आज 26 नवंबर हम कभी भी भूल नहीं सकते हैं। आज के ही दिन देश पर सबसे जघन्य आतंकी हमला (terrorist attack) हुआ था। आतंकियों ने, मुंबई को, पूरे देश को, थर्रा कर रख दिया था। लेकिन ये भारत का सामर्थ्य है कि हम उस हमले से उबरे और अब पूरे हौसले के साथ आतंक को कुचल भी रहे हैं। मुंबई हमले में अपना जीवन गंवाने वाले सभी लोगों को मैं श्रद्धांजलि देता हूँ। इस हमले में हमारे जो जांबांज वीरगति को प्राप्त हुए, देश आज उन्हें याद कर रहा है।

संविधान दिवस की दी शुभकामनाएं
मोदी ने कहा कि 26 नवंबर का आज का ये दिन एक और वजह से भी अत्यंत महत्वपूर्ण है।1949 में आज ही के दिन संविधान सभा ने भारत के संविधान को अंगीकार किया था। मुझे याद है, जब साल 2015 में हम बाबा साहेब आंबेडकर की 125वीं जन्मजयन्ती मना रहे थे, उसी समय ये विचार आया था कि 26 नवंबर को ‘संविधान दिवस’ के तौर पर मनाया जाए।और तब से हर साल आज के इस दिन को हम संविधान दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं। मैं सभी देशवासियों को संविधान दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ देता हूँ।

भारतीय उत्पादों को खरीदने का जबरदस्त उत्साह
प्रधानमंत्री ने कहा कि संविधान सभा के मनोनीत सदस्यों में 15 महिलाएं थीं। मुझे संतोष है कि संविधान निर्माताओं के उसी दूरदृष्टि का पालन करते हुए, अब भारत की संसद ने ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ को पास किया है।‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ हमारे लोकतंत्र की संकल्प शक्ति का उदाहरण है। पिछले महीने ‘मन की बात’ में मैंने Vocal For Local यानी स्थानीय उत्पादों को खरीदने पर जोर दिया था। बीते कुछ दिनों के भीतर ही दिवाली, भैया दूज और छठ पर देश में चार लाख करोड़ से ज्यादा का कारोबार हुआ है। और इस दौरान भारत में बने उत्पादों को खरीदने का जबरदस्त उत्साह लोगों में देखा गया। अब तो घर के बच्चे भी दुकान पर कुछ खरीदते समय यह देखने लगे हैं कि उसमेंMade In Indiaलिखा है या नहींलिखा है।इतना ही नहीं Online सामान खरीदते समय अब लोग Country of Originइसे भी देखना नहीं भूलते हैं।

यह भी पढ़ें – Anniversary of 26/11 terror: राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, सीएम शिंदे ने बयां किया ये दर्द

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.