Maharashtra: “एकनाथ शिंदे का होने वाला था एनकाउंटर!” शिंदे गुट के विधायक का सनसनीखेज बयान

महाराष्ट्र की राजनीति में एक बार फिर सनसनी फैल गई है। शिंदे गुट के एक विधायक ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की हत्या का षड्यंत्र रचे जाने का दावा किया है।

55

महाराष्ट्र में शिंदे गुट के विधायक संजय गायकवाड़ ने सनसनीखेज बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का एनकाउंटर होने वाला था। गायकवाड़ ने यह भी कहा है कि मैं यह गुप्त विस्फोट जिम्मेदारी से कर रहा हूं। संजय गायकवाड़ के बयान के बाद राजनीतिक हलके में हलचल मच गई है। एकनाथ शिंदे का एनकाउंटर करने में कौन शामिल था? गायकवाड़ ने इस बारे में सांकेतिक बयान भी दिया है।

शिंदे की हत्या की साजिश का पर्दाफाश
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की हत्या की साजिश का पर्दाफाश करते हुए विधायक संजय गायकवाड़ ने कहा, ”एकनाथ शिंदे को और कुछ नहीं दिया जाने वाला था, उनकी हत्या की जाने वाली थी। उनका एनकाउंटर नक्सलियों से कराई जानी थी। नक्सलियों के हाथों मुख्यमंत्री की हत्या कराने का उनका सपना टूट गया। मैं यह खुलासा पूरी जिम्मेदारी के साथ कर रहा हूं।”

उद्धव ठाकरे की ओर इशारा
एकनाथ शिंदे के एनकाउंटर की साजिश रचे जाने का क्या कारण था? यह सवाल पूछे जाने पर संजय गायकवाड़ ने कहा, ”एकनाथ शिंदे जब गढ़चिरौली के पालक मंत्री थे तो उन्हें नक्सलियों ने धमकी दी थी। इस धमकी के बाद राज्य सरकार ने एकनाथ शिंदे को जेड प्लस सुरक्षा देने का फैसला किया। इस सुरक्षा को मुहैया कराने के लिए तत्कालीन गृह मंत्री शंभूराज देसाई के घर पर एक बैठक हुई थी। उस वक्त मातोश्री (उद्धव ठाकरे का आवास) से फोन आया और कहा गया था कि एकनाथ शिंदे को जेड प्लस सुरक्षा न दी जाए। इसका अर्थ क्या है? आप उन्हें मारना चाहते थे। वे चाहते थे कि नक्सली उन्हें मार डालें। इसलिए उन्होंने एकनाथ शिंदे को सुरक्षा देने से इनकार कर दिया था।”

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.