Janta Darshan: मुख्यमंत्री योगी ने सुनी प्रदेशवासियों की समस्याएं, अधिकारियों से कहा- जल्द से जल्द समाधान निकालें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के मंदिर में जनता दर्शन दरबार लगाया। इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनीं और अधिकारियों से कहा कि पीड़ितों की समस्याओं को गंभीरता से लें और संवेदनशीलता के साथ उनका समाधान सुनिश्चित करें।

147

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने गोरखपुर (Gorakhpur) प्रवास के दौरान लगातार दूसरे दिन सोमवार को लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं (Problems) सुनीं। इस दौरान लोगों की समस्याओं का निस्तारण तेजी से करने का निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों (Officials) से पीड़ितों की समस्याओं को गंभीरता से लेने और संवेदनशीलता से उनका समाधान सुनिश्चित कराने को कहा।

सोमवार सुबह गोरखनाथ मंदिर में जनता दर्शन (Janta Darshan) में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करीब 200 लोगों से मुलाकात की। मंदिर परिसर के महंत दिग्विजयनाथ स्मृति भवन सभागार में कुर्सियों पर बैठाए गए लोगों तक मुख्यमंत्री खुद गए और एक-एक कर उनकी समस्याओं को सुना। सबको आश्वस्त किया कि किसी को भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, सबकी समस्या का समाधान हर हाल में किया जाएगा। जनता दर्शन में कुछ महिलाएं जमीन से जुड़े विवादों में प्रार्थना पत्र लेकर पहुंची थीं। कुछ की शिकायत थी कि दबंग उनकी जमीनों पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Karnataka: केरागोडु गांव में भगवान हनुमान के ध्वज का अपमान, प्रशासन पर फूटा लोगों का गुस्सा!

सीएम योगी ने अधिकारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए
इन शिकायतों पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जमीन कब्जाने में पेशेवर प्रवृत्ति वालों को भू-माफिया के रूप में चिन्हित कर सख्ती करें। इनके खिलाफ होने वाली कार्रवाई नजीर बननी चाहिए। प्रार्थना पत्रों को अधिकारियों को हस्तगत करते हुए सीएम योगी ने हर समस्या का निस्तारण त्वरित, गुणवत्तापूर्ण और संतुष्टिप्रद करने के निर्देश दिये।

धन का अभाव किसी के इलाज में बाधा नहीं बनेगा: सीएम योगी
जनता दर्शन में गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए आर्थिक मदद की गुहार लेकर पहुंचे लोगों को सीएम योगी ने आश्वस्त किया कि पैसे की तंगी से किसी का भी इलाज नहीं रुकने दिया जाएगा। उन्होंने प्रशासन को निर्देश दिया कि संबंधित मरीज के इलाज संबंधी इस्टीमेट की प्रक्रिया को पूर्ण कर इसे जल्द से जल्द शासन को उपलब्ध कराया जाए। इस्टीमेट मिलते ही इलाज के लिए धन अवमुक्त हो जाएगा। जनता दर्शन के दौरान कुछ महिलाओं संग पहुंचे उनके बच्चों को मुख्यमंत्री ने प्यार-दुलार और आशीर्वाद देते हुए चॉकलेट दिया।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.