Arvind Kejriwal: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने पद से इस्तीफा देंगे? या फिर जेल से चलाएंगे सरकार

आम आदमी पार्टी पूरी तरह से एक व्यक्ति पर आधारित पार्टी है। पार्टी के प्रमुख नेता जेल में है। ऐसे में पार्टी में नेतृत्व का संकट दिखने लगा है।

105

दिल्ली (Delhi) की आबकारी नीति (Excise Policy) में शराब घोटाले (Liquor Scam) को लेकर मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को 22 मार्च शुक्रवार को 28 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) की हिरासत में भेज दिया गया है। ईडी की ओर से भेजे गए कई समन के बाद भी केजरीवाल पेश नहीं हुए थे। 21 मार्च की शाम को ईडी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सरकारी आवास पर पहुंची और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। प्रवर्तन निदेशालय ने कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शराब घोटाला मामले में मुख्य षड्यंत्रकर्ता है।

आम आदमी पार्टी पूरी तरह से एक व्यक्ति पर आधारित पार्टी है। पार्टी के प्रमुख नेता जेल में है। ऐसे में पार्टी में नेतृत्व का संकट दिखने लगा है। दिल्ली सरकार के मंत्री आतिश ने इसका जवाब देते हुए कहा है सरकार पहले भी चल रही थी, आज भी चलेगी और आगे भी चलेगी। अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री थे, हैं और रहेंगे।

यह भी पढ़ें- Veer Savarkar Premiere Show: फिल्म ‘स्वातंत्र्य वीर सावरकर’ को जबरदस्त रिस्पॉन्स, युवाओं के जयकारों से गूंजे सिनेमाघर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस्तीफा देंगे?
स्वतंत्र भारत में पहली बार किसी मुख्यमंत्री को पद पर रहते गिरफ्तार किया है। अरविंद केजरीवाल को अक्टूबर 2023 से उन्हें 9 समन जारी किए जा चुके थे लेकिन वह एक में भी हाजिर नहीं हुए। अब गिरफ्तार हो गए हैं तो अरविंद केजरीवाल कह रहे हैं कि जेल से सरकार चलाएंगे। क्या यह जनता का कानून का और लोकतंत्र का भी अपमान है?

कानून के जानकार कहते हैं कि ईडी ने 9 बार समन दिया वह एक बार भी पेश नहीं हुए ऐसी कौन सी मजबूरी थी की जांच एजेंसी से दूर रहना चाहते है। कानून के तहत जेल से सरकार चलाने के लिए कोई रोक नहीं है लेकिन व्यावहारिक रूप से ऐसा करना मुश्किल है।

बेचारा बनकर जनता की सहानुभूति लेले में जुटे हैं केजरीवाल
अरविंद केजरीवाल अपने-आप को कट्टर ईमानदार बताते है। वे हमेशा अपने विरोधी दल भाजपा पर आरोप लगाते है। बेचारा बनकर जनता से वोट मांगने में कभी नहीं चूकते। आम आदमी पार्टी केजरीवाल की गिरफ्तारी को एक भाजपा की साजिश बता रही है आम आदमी पार्टी नेता और अरविंद केजरीवाल सरकार में मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा है कि मोदी सरकार केजरीवाल के परिवार वालों को प्रताड़ित कर रहे है। भाजपा और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह कहते हैं कानून से देश चलता है। केजरीवाल साहब कानून को धता बता रहे हैं जबकि वे खुद संवैधानिक संस्था के उच्च स्तर पर बैठे हैं अगर यह सम्मान नहीं करेंगे तो कौन करेगा इन्हें 10 बार समन मिले उसके बाद भी हाई कोर्ट चले गए हाई कोर्ट ने उन्हें छूट नहीं दी इससे साफ जाहिर होता है कि उनके चेहरे अब बेनकाब होने लगे हैं।

अन्ना हजारे के आंदोलन के चेहरे को तार-तार किया केजरीवाल ने
अरविंद केजरीवाल को अक्टूबर 2023 से उन्हें जो समन जारी किए जा चुके थे लेकिन वह एक में भी हाजिर नहीं हुए। अब गिरफ्तार हो गए हैं तो अरविंद केजरीवाल कह रहे हैं की जेल से सरकार चलाएंगे क्या यह जनता का कानून का और लोकतंत्र का भी अपमान है। शराब घोटाले में आम आदमी पार्टी के प्रमुख नेता मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और सत्येंद्र जैन के साथ-साथ अब अरविंद केजरीवाल भी गिरफ्तार हो चुके हैं। दिल्ली शराब नीति मामले में ईडी ने बीआरएस नेता के. कविता को भी गिरफ्तार किया है। दिल्ली हाई कोर्ट की डिवीजन बेंच ने केजरीवाल की याचिका पर सुनवाई करते हुए गिरफ्तारी से सुरक्षा देने से इनकार कर दिया था इसे एक बात तो साफ है कि कानून एक तरफ है जबकि विपक्षी दलों के और आम आदमी पार्टी के आरोप दूसरी तरफ है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.