आयुर्वेद को वोकल फॉर लोकल से जोड़ते पीएम मोदी ने कही बड़ी बात, जानें क्या

अभूतपूर्व अनुसंधान से लेकर गतिशील स्टार्टअप तक, आयुर्वेद कल्याण के नए मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। आयुर्वेद का समर्थन करना वोकल फॉर लोकल होने का एक जीवंत उदाहरण भी है।

367
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा कि आयुर्वेद (Ayurveda) का समर्थन करना वोकल फॉर लोकल (vocal for local) होने का एक जीवंत उदाहरण है। मोदी ने उन अन्वेषकों और चिकित्सकों की सराहना भी की जो इस प्राचीन ज्ञान को आधुनिकता के साथ जोड़ रहे हैं और आयुर्वेद को वैश्विक स्तर पर नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने एक्स पर पोस्ट किया:

“धनतेरस के शुभ अवसर पर, हम आयुर्वेद दिवस (ayurveda day) भी मनाते हैं। यह उन अन्वेषकों और चिकित्सकों की सराहना करने का अवसर है जो इस प्राचीन ज्ञान को आधुनिकता के साथ जोड़ रहे हैं और आयुर्वेद को वैश्विक स्तर पर नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं। अभूतपूर्व अनुसंधान से लेकर गतिशील स्टार्टअप तक, आयुर्वेद कल्याण के नए मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। आयुर्वेद का समर्थन करना वोकल फॉर लोकल होने का एक जीवंत उदाहरण भी है।”

 

यह भी पढ़ें – अमेरिकी जनगणना ब्यूरो का अनुमान, विश्व की जनसंख्या हुई इतने अरब के पार

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.