पाकिस्तान, अफगानिस्तान से भारत में फैला पोलियो का खतरा

भारत में भी जहां यह बीमारी बड़े पैमाने पर है, वहीं अब कोरोना पर काबू पा लिया गया है। लेकिन भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान और अफगानिस्तान में पोलियो के मामलों में इजाफा हो रहा है।

पिछले दो साल से पूरी दुनिया कोरोना जैसी भयानक बीमारी से जूझ रही है। भारत में भी जहां यह बीमारी बड़े पैमाने पर है, वहीं अब कोरोना पर काबू पा लिया गया है। लेकिन भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान और अफगानिस्तान में पोलियो के मामलों में इजाफा हो रहा है।

अमेरिका और यूरोप में भी खतरे की घंटी
अफगानिस्तान में गृहयुद्ध और पाकिस्तान में बाढ़ ने दोनों देशों में पोलियो के रोगियों की संख्या में वृद्धि की है। पोलियो के तेजी से फैलने को लेकर चिंता व्यक्त की जा रही है। अमेरिका और यूरोप में भी पोलियो का खतरा बढ़ गया है और न्यूयॉर्क में इस वायरस का पता चलने के बाद आपातकाल घोषित कर दिया गया है। पोलियो का वायरस न्यूयॉर्क के तीन काउंटियों के सीवेज में पाया गया था। जून में लंदन के सीवेज में भी पोलियो का वायरस पाया गया था। इसलिए इसे खतरे की घंटी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें – इक्वाडोर में विस्फोट में पांच पुलिस अधिकारियों की मौत!

भारत में भी इसके फैलने की आशंका है
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में भी सीवेज में पोलियो वायरस पाया गया है। 25 अक्टूबर तक पाकिस्तान में 20 पोलियो के मामले सामने आए हैं, जबकि अफगानिस्तान में 2 मामले सामने आए हैं। इन दोनों देशों से राजनीतिक और प्राकृतिक आपदाओं ने भारत में प्रवास बढ़ा दिया है। रोटरी की नेशनल पोलियो प्लस कमेटी के अध्यक्ष दीपक कपूर ने कहा कि भारत में भी इस वायरस के फैलने का खतरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here