पंजाब में कानून-व्यवस्था पर सवाल, शिवसेना के इस नेता की गोली मारकर दिन दहाड़े हत्या

पंजाब में शिवसेना के एक नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

पंजाब में शिवसेना के एक नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। सुधीर सूरी नामक इस नेता ने अमृतसर के गोपाल मंदिर में कचरे में मूर्तियों के मिलने से जुड़े मामले में विरोध जताया था। उसी समय उन पर हमला कर दिया गया था। सुधीर को गंभीर स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका और उनकी मौत हो गई। फिलहाल एक हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जहां सुधीर सूरी को गोली मारी गई, वह रिहायशी इलाका है। शिवसेना नेता को उस समय गोली मार दी गई, जब वे एक पुलिस अधिकारी से बात कर रहे थे। उनका नाम हिटलिस्ट में शामिल था।

कौन है हमलावर?
हमलावर अमृतसर का रहने वाला है। वह वहां दुकान चलाता है। पिछले कुछ दिनों से सुधीर सूरी पर हमला करने की साजिश रची जा रही थी। हमलावर कार से आया था और फायरिंग करने के बाद वह भागने लगा। उसके बाद लोगों ने उसरी कार पर पत्थर फेंके। कार पर वारिस पंजाब दे के प्रमुख अमृसपाल सिंह की तस्वीर लगी है।

चार गैंगस्टर्स गिरफ्तार
पुलिस ने पिछले महीने कई गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया था। जिन चार गैंगस्टर्स को गिरफ्तार किया गया था, उनमें रिंदा और लिंडा के गुर्गे शामिल थे। इन्होंने पूछताछ में बताया था कि वे शिवसेना नेता पर हमले का षड्यंत्र रच रहे थे। लेकिन हमला करने से पहले ही वे गिरफ्तार कर लिए गए थे। एसटीएफ ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। उनसे पूछताछ में जानकारी मिली थी कि वे दिवाली से पहले ही सूरी की हत्या करने वाले थे।

सुरक्षा में चूक
जान का खतरा होने के बाद भी उनकी सुरक्षा को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया। बताया जा रहा है कि जिस समय वे पुलिस से बात कर रहे थे, उस समय उन्हें गोली मारी गई। उन पर तीन गोलियां चलाई गईं।

कानून-व्यवस्था पर सवाल
बता दें कि इससे पहले सिद्धू मूसेवाला की भी हत्या कर दी गई थी। इस तरह की हत्याओं के बाद पंजाब की भगवंत मान सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है। वे पंजाब में कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here