Naxal Encounter: झारखंड में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में 4 नक्सली ढेर

झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में चार नक्सलियों को मार गिराया।

121

झारखंड (Jharkhand) के पश्चिमी सिंहभूम (West Singhbhum) जिले के नक्सल (Naxal) प्रभावित गुवा थाना क्षेत्र स्थित कोल्हान जंगल (Kolhan Forest) में सुरक्षाबलों (Security Forces) ने सोमवार सुबह मुठभेड़ (Encounter) में चार नक्सलियों को मार गिराया। इनमें एक महिला नक्सली भी है। मौके से हथियार और अन्य सामग्री बरामद हई है। मारे गए नक्सलियों में 10 लाख रुपये का इनामी जोनल कमांडर भी है। जिले के एसपी आशुतोष शेखर ने इसकी पुष्टि की है।

उन्होंने बताया कि दो नक्सलियों को जीवित पकड़ने में भी कामयाबी मिली है। इनमें एक एरिया कमांडर और एक महिला नक्सली है। मारे गए नक्सलियों में एक जोनल कमांडर, एक एरिया कमांडर और एक सब-जोनल कमांडर के अलावा एक महिला नक्सली शामिल है। अभी तलाशी अभियान जारी है।

यह भी पढ़ें- Kanchenjunga Express Accident: पश्चिम बंगाल में बड़ा रेल हादसा, यात्रियों से भरी कंचनजंगा एक्सप्रेस मालगाड़ी से टकराई; 4 की मौत

एसपी ने बताया कि मारे गए नक्सलियों की पहचान जोनल कमांडर सिंगराई उर्फ मनोज, सबजोनल कमांडर कांडे होनहागा उर्फ दिरशुम, एरिया कमांडर सूर्या उर्फ मुंडा देवगम और महिला नक्सली कैडर जुनगा पुर्ति उर्फ मारला के रूप में हुई है। मारला को छोड़कर सभी मारे गए नक्सलियों के जिंदा या मुर्दा पकड़ने पर इनाम घोषित था। सिंगराई उर्फ मनोज पर 10 लाख रुपये, कांडे और सूर्या पर क्रमश: पांच लाख और दो लाख रुपये का इनाम पुलिस ने घोषित किया था।

नक्सली घने जंगल का फायदा उठाकर भागने में सफल
उन्होंने बताया कि गिरफ्तार नक्सलियों की पहचान टाइगर उर्फ पांडू हांसदा और बातरी देवी देवगम के रूप में हुई है। पांडू हांसदा पर दो लाख रुपये का इनामी एरिया कमांडर है। बातरी देवी महिला नक्सली है। गुवा थाना क्षेत्र में भाकपा माओवादी नक्सलियों के एकत्र होने की सूचना पर सीआरपीएफ, झारखंड पुलिस और झारखंड जगुआर की संयुक्त टीम को इस अभियान में यह कामयाबी मिली। कुछ नक्सली घने जंगल का फायदा उठाकर भागने में सफल भी रहे।

उल्लेखनीय है कि चाईबासा जिले में नक्सलियों का सबसे बड़ा दस्ता मौजूद है। जिले के जराइकेला और टोंटो थाना क्षेत्र में मिसिर बेसरा, पतिराम मांझी, सिंगरई, अजय महतो का दस्ता सक्रिय है। इस दस्ते में 65 नक्सली कैडर हैं। चाईबासा जिले के ही गोइलकेरा और सोनूवा थाना क्षेत्र में मेहनत और अमित मुंडा का दस्ता सक्रिय है। इस दस्ते में 30 नक्सली कैडर हैं।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.