Ram Navami: पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध, सेंट्रल फोर्स की तैनाती

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी कई चुनावी जनसभाओं में रामनवमी के मौके पर सूबे में हिंसा भड़कने की आशंका जाहिर की है।

110

Ram Navami: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 17 अप्रैल (बुधवार) को रामनवमी (Ram Navami) के मौके पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था की गई है। कोलकाता से लेकर उत्तर और दक्षिण बंगाल में चुनाव आयोग (election Commission) की ओर से पुलिस प्रशासन को खास तौर पर सतर्कता बरतने और हर हाल में कानून व्यवस्था (Law and order) बहाल रखने के निर्देश दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी कई चुनावी जनसभाओं में रामनवमी के मौके पर सूबे में हिंसा भड़कने की आशंका जाहिर की है। इसलिए त्योहार के बावजूद लोग डर के साए में हैं और इस बात की आशंका है कि राज्यभर में रामनवमी की शोभायात्राओं पर कहीं-कहीं हमले हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें- Eknath Khadse: एकनाथ खडसे को छोटा शकील गैंग से मिली धमकी, मामला दर्ज

रामनवमी शोभायात्रा
वैसे तो रामनवमी के पहले हर जिले के हर एक थाने में रामनवमी शोभायात्रा निकालने वाले आयोजकों और अल्पसंख्यक समुदाय के प्रतिनिधियों के बीच शांति समन्वय बैठक की गई है। इसके बावजूद जिस तरह से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनावी जनसभाओं से इसे लेकर बार-बार दंगें की आशंका जाहिर की है, उससे लोगों के मन में संशय है।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2024: आम चुनाव के मद्देनजर केजरीवाल की पार्टी को याद आए राम, लॉन्च किया ‘AAP का राम राज्य’

सेंट्रल फोर्स की तैनाती
एक शीर्ष प्रशासनिक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि चुनाव के समय कानून व्यवस्था आयोग के हाथ में है और हर एक जिले के प्रशासन को शांति व्यवस्था बहाल रखने के निर्देश दिए गए हैं। राज्य में चुनावी ड्यूटी के लिए तैनात की गई सेंट्रल फोर्स को भी कई जगह शांति सुनिश्चित करने के लिए तैनात किया गया है। बहरहाल, सुबह से ही पूरे राज्य में रामनवमी की शोभायात्राओं की धूम देखी जा सकती है और बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर इस उत्सव को मनाने के लिए उतर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि इस बार रामनवमी के मौके पर पूरे राज्य में कमोबेश 1000 शोभायात्राएं निकाली जानी हैं।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.