Ram Navami: रामलला के सूर्य तिलक के समय असम रैली में प्रधानमंत्री ने भीड़ से किया यह आग्रह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 अप्रैल (बुधवार) को असम की रैली में नलबाड़ी की भीड़ से 'जय श्री राम' के नारों के बीच अयोध्या में राम लला के सूर्य तिलक का जश्न मनाने के लिए मोबाइल फ्लैश चालू करने का आग्रह किया।

84

Ram Navami: देश में 17 अप्रैल (आज) रामनवमी (Ram Navami) की धूम है। सुबह से मंदिरों के बाहर लोग मंदिरों के बाहर कतारबद्ध हैं। दिल्ली के झंडेवालान मंदिर, कालकाजी शक्ति पीठ और छतरपुर मंदिर में लोग मां दुर्गा के रूपों की पूजा-अर्चना कर रहे हैं।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 17 अप्रैल (बुधवार) को असम की रैली में नलबाड़ी की भीड़ से ‘जय श्री राम’ के नारों के बीच अयोध्या में राम लला (Ram Lalla) के सूर्य तिलक (Surya Tilak) का जश्न मनाने के लिए मोबाइल फ्लैश चालू (mobile flash on) करने का आग्रह किया। रैली को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ”…पूरे देश में एक नया माहौल है और भगवान राम का ये जन्मदिन 500 साल बाद आया है, जब उन्हें अपने ही घर में जन्मदिन मनाने का सौभाग्य मिला है।”

यह भी पढ़ें- Ram Navami: पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध, सेंट्रल फोर्स की तैनाती

पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
इससे पहले दिन में, पीएम मोदी ने बुधवार को राम नवमी के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दीं और कहा कि अयोध्या अतुलनीय आनंद में है क्योंकि यह पहली बार है जब राम मंदिर के अभिषेक के बाद वहां त्योहार मनाया जाएगा। मोदी ने एक्स पर पोस्ट की एक श्रृंखला में कहा, “अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहली राम नवमी एक पीढ़ीगत मील का पत्थर है, जो आशा और प्रगति के एक नए युग के साथ सदियों की भक्ति को एक साथ जोड़ती है। यह एक ऐसा दिन है जिसका करोड़ों भारतीयों को इंतजार था।”

यह भी पढ़ें- Ram Navami: राम नवमी पर ‘सूर्य तिलक’ से सुसोभित हुए रामलला

रामलला का हुआ सूर्य तिलक
17 अप्रैल (बुधवार) को राम नवमी के अवसर पर अयोध्या मंदिर में भगवान राम लला की मूर्ति के माथे पर ‘सूर्य तिलक’ (Surya Tilak) लगाया गया। दर्पण और लेंस से युक्त एक विस्तृत तंत्र द्वारा देवता का ‘सूर्य तिलक’ संभव बनाया गया। इस प्रणाली का परीक्षण वैज्ञानिकों ने 16 अप्रैल (मंगलवार) को किया।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.