Nagpur: पिछले 24 घंटे में 25 मरीजों की मौत, अस्पताल प्रशासन ने बताई वजह

सरकारी अस्पतालों में मरीजों की बढ़ती संख्या के बाबत अस्पताल प्रशासन (hospital administration) का कहना है कि निजी अस्पताल मरीजों की स्थिति देखकर अपने यहां भर्ती लेते हैं। लेकिन सरकारी अस्पतालों को सभी मरीजों को लेना पड़ता है।

45

महाराष्ट्र के नांदेड़ (Nanded) जिले में शंकरराव चव्हाण अस्पताल में एक ही दिन में कई मरीजों की मौत (died) का मामला अभी थमा भी नहीं कि नागपुर (Nagpur) के मेडिकल कॉलेज और इंदिरा गांधी गवर्नमेंट कॉलेज से भी कुछ ऐसी ही खबरें आ रही हैं। यहां पिछले 24 घंटे में 25 मरीजों (patients) की मौत होने का मामला प्रकाश में आया है।

अस्पताल प्रशासन ने बताया कारण
जानकारी के अनुसार मृतकों में 16 मरीज सरकारी मेडिकल कॉलेज (Government Medical College) और 9 मरीज इंदिरा गांधी सरकारी मेडिकल कॉलेज (Indira Gandhi Government Medical College) के थे। सरकारी अस्पतालों में मरीजों की बढ़ती संख्या के बाबत अस्पताल प्रशासन (hospital administration) का कहना है कि निजी अस्पताल मरीजों की स्थिति देखकर अपने यहां भर्ती लेते हैं। लेकिन सरकारी अस्पतालों को सभी मरीजों को लेना पड़ता है। दूसरा एक अन्य कारण मरीजों की हालत अधिक खराब होने की स्थिति में सरकारी अस्पताल में भर्ती करने का भी है। कई मरीजों को अंतिम स्थिति में किसी निजी अस्पताल से लाकर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जाता है। ऐसे में सरकारी अस्पतालों में मरीजों की मौत का आंकड़ा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें – देश का कोयला उत्पादन सितंबर में बढ़कर हुआ 6.72 करोड़ टन, जानिये पिछले साल था कितना

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.