Ulhasnagar Firing Case: भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़ पर कानूनी कार्रवाई, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

उल्हासनगर फायरिंग मामले में विधायक गणपत गायकवाड़ को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

140

भाजपा (BJP) विधायक गणपत गायकवाड़ (Ganpat Gaikwad) को न्यायिक हिरासत (Judicial Custody) में भेज दिया गया है। उन्हें बुधवार (14 फरवरी) को उल्हासनगर चोपडा कोर्ट (Ulhasnagar Chopra Court) में पेश किया गया। गौरतलब है कि गणपत गायकवाड़ ने पुलिस स्टेशन (Police Station) में ही महेश गायकवाड़ (Mahesh Gaikwad) पर गोली (Bullet) चलाने का आरोप है। यह बात सामने आई है कि इस मामले में विधायक गायकवाड़, उनके ड्राइवर रंजीत यादव, बॉडीगार्ड हर्षल केन, विक्की गनात्रा, संदीप सरवणकर शामिल हैं। इसलिए उन्हें बुधवार को उल्हासनगर कोर्ट में पेश किया गया।

भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़ समेत 5 लोगों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। आज सुबह उन्हें उल्हासनगर कोर्ट में पेश किया गया।

यह भी पढ़ें- Farmer Protest: पुलिस और किसानों के बिच झड़प, घायल हुए 24 पुलिसकर्मी 

कोर्ट परिसर में पुलिस बल तैनात
मालूम हो कि इस वक्त उल्हासनगर कोर्ट इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। इसके अलावा कोर्ट की ओर जाने वाली 200 मीटर तक की सड़कें बंद कर दी गईं। इसलिए इन हिस्सों में धारा 144 लगा दी गई।

14 दिन की न्यायिक हिरासत
उल्हासनगर अदालत में दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद न्यायाधीश निकम ने गायकवाड़ और अन्य आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। तो वहीं गणपत गायकवाड़ का बेटा वैभव अभी भी फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। बुधवार सुबह 9 बजे गणपत गायकवाड़ और चार अन्य लोगों को कोर्ट में पेश किया गया। जांच की प्रगति देखने के बाद कोर्ट ने उनकी जेल हिरासत का आदेश दिया है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.