इजरायल को सता रहा है साइबर हमले का डर, रोकने के लिए करेगा यह उपाय

इजरायल सरकार को साइबर हमले का डर सता रहा है। उसने इसे रोकने के उपाय करने को लेकर गंभीर है।

इजरायल सरकार ने 2 मई को आईटी फर्मों पर हैकिंग हमलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर अपने साइबर सुरक्षा को मजबूत करने के लिए आयरन डोम स्थापित करने के प्रयासों को तेज करने का आदेश दिया है। इजरायल के संचार मंत्रालय और राष्ट्रीय साइबर निदेशालय ने कहा कि नए नियम वर्तमान में लागू किए जा रहे हैं जिसमें अनिवार्य और एकीकृत मानकों को पूरा करना होगा।

नए आईटी नियमों के तहत, सभी फर्मों को साइबर सुरक्षा प्रदान करने के लिए एक सिस्टम स्थापित करना है ताकि निगरानी और नियंत्रण तंत्र के संयोजन का उपयोग करके संचार नेटवर्क की सुरक्षा के लिए योजनाएं तैयार करनी है।

ये भी पढ़ें – तीन बार तलाक और दो बार हलाला, एक मुस्लिम महिला का जीवन कैसे बन गया नरक? पढ़ें, पूरी कहानी

हजारों साइबर हमलों से पीड़ित
संचार मंत्री योआज हेंडेल ने कहा कि हम इजराइल की रक्षा के लिए संचार कंपनियों पर सही मानक लगाने की कोशिश कर रहे हैं और साइबर सुरक्षा हमलों से एक तरह का ‘आयरन डोम’ बना रहे हैं। देश हर साल हजारों साइबर हमलों से पीड़ित है। हेंडेल ने कहा कि अधिक डिजिटलीकरण के साथ-साथ जोखिम बढ़ता जा रहा है। हेंडेल ने कहा कि संचार नेटवर्क शत्रुतापूर्ण तत्वों द्वारा साइबर हमलों को रोकना और निष्प्रभावी करना एकमात्र लक्ष्य है।

साइबर सुरक्षा फर्म चेक प्वाइंट के अनुसार, 2022 के पहले तीन महीनों में इजरायली कंपनियों पर औसत साप्ताहिक हमलों में सालाना 137 फीसदी की बढ़ोतरी हुई, जो लगभग 1,500 प्रति सप्ताह थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here