30 ट्रिलियन यूएस डॉलर हो जाएगी भारतीय अर्थव्यवस्था, पढ़ें कब और कैसे?

अगर मौजूदा गति जारी रही, तो भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian economy) 2050 तक 30,000 अरब यानी 30 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की बन सकती है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रति व्यक्ति आय 21,000 अमेरिकी डॉलर होगी। 

89

एचडीएफसी बैंक (HDFC bank) के अध्यक्ष और आर्थिक मामलों के पूर्व सचिव अतनु चक्रवर्ती (Atanu Chakraborty) ने कहा कि मजबूत खपत और निर्यात (exports) के दम पर भारत 2050 तक 30 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की उम्मीद है।

प्रति व्यक्ति आय 21,000 अमेरिकी डॉलर
अतनु चक्रवर्ती ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अगर मौजूदा गति जारी रही, तो भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian economy) 2050 तक 30,000 अरब यानी 30 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की बन सकती है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रति व्यक्ति आय 21,000 अमेरिकी डॉलर होगी।  उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों ने इस साल भारत की आर्थिक वृद्धि दर करीब 6.3 फीसदी और मुद्रास्फीति करीब छह फीसदी रहने का अनुमान लगाया है। इसलिए मौजूदा मूल्य पर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) करीब 10-12 फीसदी होगी। ऐसे में भारत के 2050 तक 30 हजार अरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें – Supreme Court में शिवसेना पर अधिकार की सुनवाई फिर टली

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.