ई-फाइलिंग पोर्टल पर करोड़ो आयकर रिटर्न भरे गए

आयकर विभाग के नए ई-फाइलिंग पोर्टल पर बढ़ाई गई अंतिम तिथि 31 दिसंबर, 2021 तक लगभग 5.89 करोड़ आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल किए गए हैं। 31 दिसंबर, 2021 को 46.11 लाख से भी अधिक आईटीआर दाखिल किए गए। पोर्टल पर सहज अनुभव सुनिश्चित कराने के साथ ही करदाताओं की सहायता करने के लिए हेल्पडेस्क द्वारा करदाताओं की 16,850 फोन कॉल और 1,467 चैट का जवाब दिया गया। इसके अलावा, विभाग अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर सहायता के लिए करदाताओं एवं प्रोफेशनलों के साथ सक्रिय रूप से संवाद करता रहा है और उनसे आवश्‍यक सहयोग करता रहा है। अकेले 31 दिसंबर, 2021 को करदाताओं और प्रोफेशनलों के 230 से भी अधिक ट्वीट्स का जवाब दिया गया।

ये भी पढ़ें – ये कोरोना की तीसरी लहर! महाराष्ट्र के अपर मुख्य स्वास्थ्य सचिव ने बताया जनवरी के तीसरे सप्ताह तक कितने होंगे संक्रमित

आकलन वर्ष 2021-22 के लिए 31 दिसंबर तक दाखिल किए गए कुल 5.89 करोड़ आईटीआर में से 49.6% आईटीआर1 (2.92 करोड़), 9.3% आईटीआर2 (54.8 लाख), 12.1% आईटीआर3 (71.05 लाख), 27.2% आईटीआर4 (1.60 करोड़), 1.3% आईटीआर5 (7.66 लाख), आईटीआर6 (2.58 लाख) और आईटीआर7 (0.67 लाख) हैं। इनमें से 45.7% से भी अधिक आईटीआर पोर्टल पर ऑनलाइन आईटीआर फॉर्म का उपयोग करके दाखिल किए गए हैं और शेष को ऑफलाइन सॉफ्टवेयर सुविधाओं से सृजित किए गए आईटीआर का उपयोग करके अपलोड किया गया है।

इसकी तुलना में 10 जनवरी, 2021 (आकलन वर्ष 2020-21 हेतु आईटीआर के लिए बढ़ाई गई अंतिम तिथि) तक दाखिल किए गए आईटीआर की कुल संख्या 5.95 करोड़ थी। अंतिम दिन यानी 10 जनवरी, 2021 को 31.05 लाख आईटीआर दाखिल किए गए थे, जबकि इस साल अंतिम दिन 46.11 लाख से भी अधिक आईटीआर दाखिल किए गए।

आयकर विभाग उन करदाताओं, टैक्स प्रैक्टिशनरों, कर प्रोफेशनलों और अन्य लोगों के बहुमूल्‍य योगदान को कृतज्ञतापूर्वक स्वीकार करता है जिन्होंने इसे संभव किया है। हम सभी के लिए सुचारू और सतत करदाता सेवा अनुभव सुनिश्चित करने के लिए निरंतर अथक प्रयास करने के अपने दृढ़ संकल्प को दोहराते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here