जानिये… ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक के घर क्यों पहुंची सीबीआई?

21 फरवरी को सीबीआई ने ममता बनर्जी के भतीजे व सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को नोटिस जारी किया है।

अवैध कोयला खनन और तस्करी की आंच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी के परिवार तक पहुंच गई है। 21 फरवरी को सीबीआई ने उनके भतीजे व युवा टीएमसी अध्यक्ष अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को इस मामले में नोटिस जारी किया। दोपहर सीबीआई अधिकारी कालीघाट इलाके के अभिषेक बनर्जी के घर शांतिनेकेतन पहुंचे और नोटिस जारी किया।

मिली जानकारी के अनुसार यह नोटिस उनकी पत्नी रुजिरा के नाम पर है। अभिषेक और उनकी पत्नी रुजिरा उस समय घर में मौजूद नहीं थे। सीबीआई सूत्रों ने बताया कि यह नोटिस अभिषेक की पत्नी को सीआरपीसी की धारा 160 के तहत गवाह के रुप में बयान दर्ज करने के लिए जारी किया गया है।

यह है मामला
बताया जा रहा है कि कोयला कांड में आर्थिक लेनदेन में कई महत्वपूर्ण जानकारी सीबीआई को मिली है। इसमें रुजिरा का नाम का भी जिक्र है। इसी मामले में जानकारी प्राप्त करने के लिए सीबीआइ उनसे पूछताछ करना चाहती है। उन्हें फिलहाल सीबीआई कार्यालय में पेश नहीं होना है। उनके घर पर ही उनसे पूछताछ की जाएगी।

ये भी पढ़ेंः भाजयुमो नेता पामेला गोस्वामी की गिरफ्तारी राजनैतिक साजिश तो नहीं?… जानिये इस खबर में

इनके भी आए नाम
बता दें कि कोयला तस्करी और गो तस्करी के मामले में टीएमसी नेता विनय मिश्रा का भी नाम आया है। इस मामले में पुलिस के साथ ही सीबीआई भी उनकी तलाश कर रही है। विनय मिश्रा अभिषेक के करीबी हैं। विनय के साथ ही कोयला तस्करी मामले के मुख्य आरोपी अनूप माजी उर्फ लाल भी फरार हैं।

टीएमसी ने बताया षड्यंत्र
सीबीआई नोटिस के लेकर टीएमसी की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई है। पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने इसे राजनैतिक साजिश करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि अन्य मामलों में भाजपा नेता शोभन देव, सुभेंदु अधिकारी, मुकुल रॉय को सीबीआई नहीं पकड़ रही है, लेकिन अभिषेक के घर नोटिस भेजकर उन्हें परेशान कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here