पत्नी की मौत बर्दाश्त नहीं कर पाया पति, उठाया ऐसा कदम

पुणे के जुन्नर तहसील के रहने वाले रमेश नवनाथ कांसकर (29 ) अपनी गर्भवती पत्नी को बाइक से अस्पताल लेकर गया था।

जीवन जीने के लिए पति-पत्नी का साथ होना बहुत जरूरी है। कई बार किसी एक का साथ छूटने के बाद जीवन का निर्वाह करना बहुत मुश्किल हो जाता है या कहें कि जीने की लालसा खत्म हो जाती है तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के पुणे से सामने आया है, जहां पत्नी की मौत का गम पति नहीं बर्दाश्त कर सका और उसने जहर पीकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

हादसे में हो गई थी पत्नी की मौत
मिली जानकारी के अनुसार, पुणे के जुन्नर तहसील के रहने वाले रमेश नवनाथ कांसकर (29 ) अपनी गर्भवती पत्नी को बाइक से अस्पताल लेकर गया था। इस दौरान सामने से आ रहे ट्रैक्टर ने बाइक में टक्कर मार दी, जिससे विद्या नीचे गिर गई और ट्रैक्टर का पहिया उसके ऊपर से गुजर गया। इस हादसे में विद्या की दर्दनाक मौत हो गई। यह गम रमेश बर्दास्त नहीं कर सका और उसने जहर पीकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

… इसके बाद अंदर से टूट गया था रमेश
दरअसल, रमेश और विद्या की शादी आठ महीने पहले ही हुई थी। विद्या चार माह की गर्भवती थी। इसी के चलते रमेश उसे लेकर अस्पताल गया था। डॉक्टर को दिखाकर जब वह घर लौट रहा था तो रास्ते में गन्ना लदे ट्रैक्टर-ट्रॉली ने बाइक में टक्कर मार दी। इस हादसे में विद्या की मौत हो गई, जिसके बाद से ही रमेश उदास रहने लगा। लोगों ने बताया कि इस घटना के बाद से रमेश अंदर से पूरी तरह से टूट गया था। वह किसी से ज्यादा बातचीत भी नहीं करता था, यहां तक कि उसने दो दिन से खाना भी नहीं खाया था। जिसके बाद उसने खौफनाक कदम उठाया और अपना जीवन समाप्त कर लिया। लोगों ने बताया कि रमेश शादी के बाद बहुत खुश था, लेकिन विधना को शायद यह मंजूर नहीं था और कुछ ही समय में यह नया जोड़ा इस संसार को छोड़कर चला गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here