ED Raids: अवैध रेत खनन मामले में लालू प्रसाद के करीबी पर ईडी की छापेमारी

उन्होंने बताया कि केंद्रीय एजेंसी द्वारा पटना और उसके आसपास करीब सात परिसरों की तलाशी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि यादव बिहार में रेत खनन में शामिल बताए जाते हैं और पहले राजद के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं। मनी लॉन्ड्रिंग का मामला बिहार पुलिस द्वारा पहले दर्ज की गई कुछ एफआईआर से उपजा है।

141
ED RAID
ED RAID

ED Raids: आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने कथित अवैध रेत खनन (illegal sand mining) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले (money laundering cases) के तहत 9 मार्च (शनिवार) को पटना में कई स्थानों पर छापेमारी की। सूत्रों ने बताया कि धन शोधन निवारण अधिनियम (Prevention of Money Laundering Act) (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत दर्ज मामले के तहत सुभाष यादव (Subhash Yadav) नाम के व्यक्ति के परिसरों की तलाशी ली जा रही है।

उन्होंने बताया कि केंद्रीय एजेंसी द्वारा पटना और उसके आसपास करीब सात परिसरों की तलाशी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि यादव बिहार में रेत खनन में शामिल बताए जाते हैं और पहले राजद के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं। मनी लॉन्ड्रिंग का मामला बिहार पुलिस द्वारा पहले दर्ज की गई कुछ एफआईआर से उपजा है।

यह भी पढ़ें- India-Maldives Relations: सॉरी! भारत को हमें माफ कर देना चाहिए, मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने भारतीयों से की ये अपील

कौन है सुभाष यादव
इससे पहले भी आयकर विभाग ने सुभाष यादव के ठिकानों पर छापेमारी की थी। 2018 में पटना, दिल्ली और धनबाद में यह कार्रवाई हुई थी। 2019 के लोकसभा चुनाव में, सुभाष यादव ने झारखंड के चतरा से राजद उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था, हालांकि, वह चुनाव हार गए। 3 मार्च को वह पटना के गांधी मैदान में महागठबंधन की ‘जन विश्वास महारैली’ में शामिल हुए थे।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.