Delhi Airport Roof Collapse: एयरलाइनों से हवाई किराए में बढ़ोतरी न करने को निर्देश, ‘वॉर रूम’ किया स्थापित

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री राम मोहन नायडू किंजरापु ने प्रमुख अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद ये निर्णय लिए।

99

Delhi Airport Roof Collapse: नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Civil Aviation Ministry) ने 28 जून (शुक्रवार) को एयरलाइनों (Airlines) से यह सुनिश्चित करने को कहा कि छत गिरने की घटना के कारण टर्मिनल 1 से परिचालन निलंबित (Terminal 1 suspended) होने के बाद दिल्ली आने-जाने वाली उड़ानों के किराये (Flight fares) में कोई असामान्य वृद्धि न हो।

मंत्रालय ने यह भी कहा कि उसने रद्द उड़ानों का पूरा पैसा वापस दिलाने के लिए एक ‘वॉर रूम’ स्थापित किया है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री राम मोहन नायडू किंजरापु ने प्रमुख अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद ये निर्णय लिए।

 

यह भी पढ़ें- Lok Sabha: राज्यसभा में सभापति और नेता प्रतिपक्ष में तकरार, जगदीप धनखड़ नाराज

उड़ानें टर्मिनल 2 और टर्मिनल 3 से संचालित
भारी बारिश के कारण सुबह करीब 5 बजे हवाई अड्डे पर छत गिरने के बाद अगले आदेश तक परिचालन स्थगित कर दिया गया, जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई और आठ लोग घायल हो गए। इंडिगो और स्पाइसजेट के घरेलू उड़ान संचालन को संभालने वाले टर्मिनल 1 के बंद होने के कारण उड़ानें रद्द हो गई हैं और परिचालन को अस्थायी रूप से टर्मिनल 2 और टर्मिनल 3 पर स्थानांतरित कर दिया गया है। इंडिगो की उड़ानें टर्मिनल 2 और टर्मिनल 3 से संचालित होती हैं, जबकि स्पाइसजेट की उड़ानें टर्मिनल 3 से संचालित होती हैं।

यह भी पढ़ें- Vaishvik Hindu Rashtra Mahotsav: मंदिर में पूजा पर रोक पर ‘वैश्विक हिन्दू राष्ट्र महोत्सव’ में विरोध, पूजा पर रोक का निर्णय वापस न लिए तो उठेंगे यह कदम

उड़ानों के किराए में असामान्य रूप से वृद्धि न हो
इस पृष्ठभूमि में, एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि मंत्रालय ने एयरलाइनों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि दिल्ली से आने-जाने वाली उड़ानों के किराए में असामान्य रूप से वृद्धि न हो। एक्स पर कई पोस्ट में मंत्रालय ने कहा कि एयरलाइनों को सलाह दी गई है कि घटना के कारण उड़ानों को रद्द करने और पुनर्निर्धारित करने पर दंडात्मक शुल्क नहीं लगाया जा सकता है। इसमें कहा गया है, “टर्मिनल टी1डी आईजीआईए, दिल्ली में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के मद्देनजर, सभी एयरलाइनों को सलाह दी जाती है कि वे दिल्ली से आने-जाने वाले हवाई किराए में किसी भी असामान्य वृद्धि की निगरानी करें और इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करें।”

यह भी पढ़ें- IND-W VS SA-W: पहले दिन के अंत तक भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बनाया सर्वाधिक रन का रिकॉर्ड, शेफाली वर्मा का दोहरा शतक

प्रक्रिया 7 दिनों के भीतर पूरी
इसने यह भी कहा कि वॉर रूम रद्द उड़ानों का पूरा रिफंड सुनिश्चित करेगा, जिसकी प्रक्रिया 7 दिनों के भीतर पूरी की जाएगी। मंत्रालय ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को सभी छोटे और बड़े हवाई अड्डों को संरचनात्मक मजबूती का गहन निरीक्षण करने के लिए एक परिपत्र जारी करने का भी निर्देश दिया है। कल दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 से करीब 89 उड़ानें रवाना होने वाली हैं, एविएशन एनालिटिक्स कंपनी सिरियम द्वारा एचटी को विशेष रूप से उपलब्ध कराए गए आंकड़ों से पता चलता है कि कल दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 से 89 उड़ानें रवाना होने वाली हैं। रविवार के लिए यह संख्या 90 है।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha: राज्यसभा में सभापति और नेता प्रतिपक्ष में तकरार, जगदीप धनखड़ नाराज

दिल्ली एयरपोर्ट की छत ढही
भारी बारिश के कारण शुक्रवार सुबह दिल्ली के आईजीआई के टर्मिनल 1 पर फोरकोर्ट की छत ढह गई। इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई और छह अन्य लोग घायल हो गए। दिल्ली अग्निशमन सेवा (डीएफएस) के अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब 5:30 बजे घटना की सूचना मिलने के बाद तीन दमकल गाड़ियों को एयरपोर्ट के टर्मिनल-1 (टी1) पर भेजा गया। मृतक की पहचान रमेश कुमार (45) के रूप में हुई है, जो टैक्सी चालक था और दिल्ली के रोहिणी का रहने वाला था। घायलों की पहचान संतोष कुमार यादव (28), शुभम शाह (30), दशरथ अहिरवार (25), अरविंद गोस्वामी (34), साहिल कुंदन (27) और योगेश धवन (44) के रूप में हुई है। अधिकारी ने बताया कि ये सभी दिल्ली, गुजरात और मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.