शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में सीबीआई की कार्रवाई, तृणमूल नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी

अफसरों ने बताया कि यह छापेमारी शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच के तहत की गई।

394

शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले (Teacher Appointment Corruption Case) में जेल में बंद राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चट्टोपाध्याय (Partha Chattopadhyay) के करीबी तृणमूल (Trinamool) पार्षद बप्पादित्य दासगुप्ता (Councilor Bappaditya Dasgupta) के घर पर सीबीआई (CBI) ने छापा मारा है। जांच एजेंसी के सूत्रों के अनुसार, राज्य में भर्ती भ्रष्टाचार मामले की जांच के तहत पार्षद के घर पर तलाशी ली जा रही है।

गुरुवार सुबह करीब 9:30 बजे सीबीआई के कई अधिकारी बप्पादित्य के घर के सामने पहुंचे। उन्होंने घर के सामने का दरवाजा खटखटाया। कई मिनट तक इंतजार करने के बाद बप्पादित्य ने खुद दरवाजा खोला। सीबीआई अधिकारियों ने अपना परिचय दिया और घर में प्रवेश किया। सीबीआई अधिकारियों के साथ केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के जवान भी थे।

यह भी पढ़ें- लोको पायलट और गार्ड ने बीच रास्ते में ही छोड़ दी ट्रेन, यात्रियों ने किया हंगामा

बप्पादित्य कोलकाता नगर निगम के वार्ड नंबर 101 के पार्षद हैं। उन्हें पार्थ के करीबी पार्षद के तौर पर जाना जाता है।

पार्थ फिलहाल भर्ती भ्रष्टाचार मामले में प्रेसीडेंसी जेल में है। निचली अदालत उनके खिलाफ ईडी और सीबीआई द्वारा दायर आरोपों पर भी सुनवाई कर रही है। आरोप है कि बप्पादित्य की ओर से दी गई लिस्ट के मुताबिक कई लोगों की अवैध तरीके से शिक्षक के तौर पर नियुक्ति हुई है। इसी सिलसिले में तलाशी अभियान चल रहा है।

अधिकारी ने बताया कि जांच के सिलसिले में कोलकाता, मुर्शिदाबाद और कूचबिहार जिलों में और उसके आसपास विभिन्न स्थानों पर छापेमारी जारी है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.