Auraiya: बारातियों और जनातियों में जमकर मारपीट, जानिये फिर क्या हुआ

दोनों परिवार के बीच पूर्व में तय वादे के अनुसार 10 जून की रात बारात लेकर गांव इटेली निवासी दूल्हे के पिता यशपाल सिंह और दूल्हा विक्रम सिंह करीब डेढ़ सौ बाराती लेकर पहुंची।

79

Auraiya जनपद के फफूंद थाना क्षेत्र के अछल्दा थाना क्षेत्र के एक गांव से 10 जून की रात बारात आई थी। जयमाल की रस्म पूरी होने के बाद दूल्हा पक्ष बाइक की मांग पर अड़ गया। इस पर उनका लड़की पक्ष से कहा सुनी के बाद झगड़ा होने लगा। लाठी डंडे और ईंट पत्थर चले और दोनों पक्ष से पांच लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस को किसी पक्ष ने कोई तहरीर नहीं दी। पुलिस ने घायलों को अस्पताल भेजा और बारात बिना दुल्हन के लौट गई। हालांकि वर-वधू की पूर्व में सरकार द्वारा कराने जाने वाले सामूहिक विवाह सम्मेलन में दोनों ने सात फेरे लिए जा चुके थे।

सामूहिक विवाह का उठा चुके हैं लाभ
बता दें कि बीते साल 2023 की 14 दिसम्बर माह में सरकार द्वारा औरैया काकोर स्थित तिरंगा मैदान में हुए सामूहिक विवाह समारोह सम्पन्न कराया गया था। समारोह में थाना क्षेत्र के गांव मुढ़ी का अड्डा निवासी एक युवती का विवाह अछल्दा थाना क्षेत्र के गांव इटेली निवासी यशपाल सिंह के पुत्र विक्रम सिंह के साथ हुआ था। सामूहिक विवाह में मिलने वाला आर्थिक लाभ और उपहार भी उन्हें मिले थे। सरकार की ओर से मिले उपहारों को बेटी का पिता अपने घर ले आया था, लेकिन विवाह स्थल से बेटी को ससुराल के लिए विदा नहीं किया था। बताया जाता है कि सरकारी लाभ लेने के लिए सामूहिक विवाह में फेरे लिए गए थे और दोनों पक्षों में इसको लेकर सहमति बनी थी। तय हुआ था कि मुहूर्त निकालकर बाद में गांव बारात आएगी। बीते रविवार को गांव मुढ़ी अड्डा निवासी दुल्हन का पिता तिलक चढ़ाने के लिए इटेली गांव गया।

Weather Update: उत्तर प्रदेश में गर्मी से अभी राहत नहीं, मौसम विभाग ने मानसून पर दिया अपडेट

पहुंची थी डेढ़ सौ बाराती
दोनों परिवार के बीच पूर्व में तय वादे के अनुसार 10 जून की रात बारात लेकर गांव इटेली निवासी दूल्हे के पिता यशपाल सिंह और दूल्हा विक्रम सिंह करीब डेढ़ सौ बाराती लेकर पहुंची। बारात चढ़ने के बाद जयमाल कार्यक्रम की रस्म पूरी हुई। चूंकि फेरे तो सामूहिक विवाह में हो ही चुके थे तभी दूल्हा के पिता यशपाल द्वारा दुल्हन के पिता से मोटर साइकिल की मांग रख दी। बारातियों द्वारा खाना खाया जा रहा था कि तभी वर-वधू पक्ष में कहासुनी होने लगी। मोटर साइकिल देने से मना करने पर लड़का पक्ष भड़क गया और दोनों पक्षों में लाठी डंडे और ईंटे चलने लगी। झगड़े में दुल्हन का पिता व भाई सतेन्द्र, शुभम, चचेरा भाई राजा घायल हो गया। इस बीच सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को बैठकर बातचीत की गई, लेकिन दोनों पक्ष नहीं माने। दुल्हन के पिता ने पुलिस को दूल्हा के तिलक चढ़ाने के दौरान भी बाइक की मांग किए जाने का आरोप लगाया।वहीं दूल्हा और दुल्हन पक्ष में बात न बनने पर बारात बिना दुल्हन के लौट गई।

मामले में पुलिस ने कहा कि दोनों ओर से तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलती है तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.