उप्र : जुमे की नमाज के बाद कई जिलों में काटा था बवाल, अब ऐसे भुगत रहे हैं किए की सजा

प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद और हाथरस समेत कई जिलों में हुए बवाल को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि दोषियों पर सख्त कार्रवाई अमल में लायी जाये।

 पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के मामले में नुपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल की गिरफ्तारी को लेकर जुमे की नमाज के बाद 10 जून को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बवाल हुआ। प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजीऔर आगजनी की, इसमें छोटे-छोटे बच्चों को भी इस्तेमाल किया गया है। पत्थरबाजी में पुलिस के कुछ जवानों के घायल होने की खबर है। बवाल के दौरान कई वाहन भी जला दिए गए। हालांकि समय रहते हुए पुलिस ने हालात को काबू में कर लिया।

प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद और हाथरस समेत कई जिलों में हुए बवाल को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि दोषियों पर सख्त कार्रवाई अमल में लायी जाये। इसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों की गिरफ्तारी शुरु कर दी है। विभिन्न जिलों से मिली जानकारी के अनुसार अब तक सौ से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

प्रयागराज में बच्चों को आगे कर किया पथराव
प्रयागराज के एडीजी प्रेम प्रकाश का कहना है कि जुमे की नमाज को लेकर सतर्कता बरती जा रही थी। पूर्व में धर्मगुरुओं के साथ हुई बैठक में भी आश्वासन दिया गया था। लेकिन जुमे की नमाज के बाद अटाला इलाके में प्रदर्शन के नाम अगजनी और पत्थरबाजी की गई। जब पुलिस आगे आई तो प्रदर्शनकारियों ने बच्चों को आगे कर दिया गया। पीएसी वाहन में आगजनी की, कई वाहनों में तोड़फोड़ किया गया। पत्थरबाजी में आरएएफ का जवान घायल हुआ है तो डीएम—एसएसपी को पत्थर लगे है। आंसू गैस छोड़कर पुलिस ने पत्थरबाजों पर लाठीचार्ज किया। चार घंटे के बाद स्थिति को नियंत्रण में किया गया। पुलिस ने इलाके को सील करते हुए अब पत्थरबाजों को गिरफ्तारी शुरु कर दी है, इसके लिए एक सूची भी बनायी है। इस घटना में कई संगठनों की साजिश होना बताया जा रहा है।

वामपंथियों का हाथ, कई हिरासत में लिए गए
एडीजी प्रेमप्रकाश ने बताया कि इस हिंसक घटना में वामपंथियों और कई संगठनों का नाम सामने आ रहे हैं। खासतौर पर अटाला के बड़ी मस्जिद के इमाम की तलाश की जा रही है। कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। दस ऐसे लोगों की सूची बनायी गई है, जो किसी राजनीतिक दल, संगठन से जुड़े है उनकी भी गिरफ्तारी की जायेगी।

मुरादाबाद में पत्थरबाजों की धरपकड़ शुरु
प्रयागराज में हिंसा की घटना शांति नहीं हुई थी कि मुरादाबाद में भी पत्थराव हो गया। पत्थरबाजों ने जमकर पथराव किया। पत्थरबाजों को लाठीचार्ज कर पुलिस ने खदेड़ा। बवाल को शांत होने के बाद पुलिस ने अब पत्थरबाजों की धरपकड़ शुरु कर दी है। अब तक पुलिस ने पांच से छह पत्थरबाजों को हिरासत में लिया है। मुरादाबाद के एसएसपी हेमंत कुटियाल ने कहा कि पत्थरबाजी के दौरान जो वीडियो उन्हें मिले है उसके आधार पर पत्थरबाजों की पहचान करायी जा रही हैं। अभी तक छह से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

सहारनपुर में 21 गिरफ्तार
प्रयागराज, मुरादाबाद के बाद जनपद सहारनपुर और देवबंद में भी नमाज के बाद उप्रदव हुआ। यहां पर भी उपद्रवियों ने पथराव किया। बिगड़े हालात को पुलिस ने काबू में कर लिया है। अब उपद्रवियों की गिरफ्तारी शुरु हो गई है अभी तक 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जबकि यह संख्या और तेजी से बढ़ेगी। एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि जनपद में हिंसा करने वालों को चिन्हित किया जा रहा है। अभी तक 21 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। अन्य लोगों की पहचान कराया जा रहा है जल्द ही उन्हें भी पकड़ा जायेगा।

हाथरस में भी जुलूस निकालने किया प्रयास, लाठीचार्ज
हाथरस जनपद के पुरदिलनगर कस्बे में नमाज के बाद नूपुर शर्मा का पुतला फूंकने और जुलूस निकालने का प्रयास किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को समझाते हुए पुतला छिनने का प्रयास किया। इस पर मुस्लिम समाज भड़क गया और पुलिस पर पथराव शुरु कर दिया। पत्थरबाजी में एक पुलिस कर्मी घायल हुआ। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर सभी को वहां से खदेड़ा। स्थिति को नियत्रण करते हुए इलाके में भारी फोर्स तैनात कर दी।

फिरोजाबाद में किया नारेबाजी
जनपद फिरोजाबाद में आगा शाह मस्जिद के बाहर नमाजियों ने नमाज अदा करने के बाद नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने जब उन्हें शांत कराने का प्रयास किया तो हंगामा करने लगे। पुलिस प्रदर्शनकारियों में झड़प हो गई। भीड़ को इकट्ठा देखते हुए पुलिस ने लाठी पटक कर भीड़ को खदेड़ा।

कई जिलों में हुई घटनाएं
उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, मुरादाबाद, सहारनपुर, देवबंद, हाथरस में हिंसक प्रदशनकारियों ने जमकर पुलिस पर पत्थर बरसाये। हालातों को काबू में करने के लिए पुलिस को आंसू गैस छोड़े। लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। लखनऊ में भी टीले वाली मस्जिद में नमाज अदा करने के बाद भीड़ जुटी और नारेबाजी शुरु कर दी। लेकिन यहां पर भारी संख्या में मौजूद पुलिस ने लाठी पटक कर भीड़ को तितर बितर कर मस्जिद को खाली कराया।

उपद्रवियों पर हो सख्त कार्रवाई : योगी
जुमे की नमाज के बाद उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, सहारनपुर, कानपुर लखनऊ, मुरादाबाद समेत कई शहरों में हो रहे प्रदर्शन के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दंगाईयों से निपटने के लिए आला अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि अशांति फैलाने वाले उपद्रवियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

पर मुख्य सचिव गृह ने जिलों की रिपोर्ट तलब की
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने जिन जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुआ है वहां के जिम्मदारों से जनपदों की रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश प्रदेश में पुलिस प्रशासन द्वारा सभी मजिस्ट्रेट सीओ द्वारा प्रर्याप्त मात्रा में पेट्रोलिंग की जा रही है।

प्रभारी डीजीपी ने कहा कि होगी सख्त कार्रवाई
उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक पुलिस महानिदेशक डीएस चौहान ने कहा है कि लखनऊ, प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद समेत कई शहरों में हो रहे प्रदर्शन और हिंसक घटनाओं को लेकर पुलिस मुख्यालय लगातार मॉनिटरिंग कर रहा है। उन्होंने कहा कि जिन जगहों पर हालात बिगड़ गए थे, वहां स्थिति अब नियंत्रण में है। पूरे प्रदेश के हालात अब सामान्य हैं। अमनचैन बिगाड़ने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। डीजीपी चौहान ने कहा कि बवाल में जिन बच्चों को आगे किया गया था उन्हें समझा-बुझाकर घर भेजा गया है। इन बच्चों की आड़ में जिन्होंने प्रदेश में अशांति फैलाने का प्रयास किया है उन्हें किसी भी हालत में नहीं छोड़ा जाएगा, उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एडीजी एलओ बोले
अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि प्रदेश के हालात सामान्य हैं। जिन जिलों में घटनाएं हुई हैं, वहां पर अतिरिक्त फोर्स की तैनाती के साथ पुलिस मुख्यालय से मानिटरिंग की जा रही है। धर्मगुरुओं का पूरा सहयोग मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here