Ghatkopar News Update: घाटकोपर में होर्डिंग गिरने से 14 लोगों की मौत, रात भर जारी रहा रेस्क्यू ऑपरेशन

सोमवार को शाम करीब चार बजे तेज हवा के साथ आई बेमौसम तूफानी बारिश की वजह से घाटकोपर में स्थित पेट्रोल पंप के पास लगाई गई होर्डिंग गिर गई।

320

घाटकोपर (Ghatkopar) में होर्डिंग गिरने (Hoarding Falling) की घटना में मरने वालों की संख्या बढ़ गई है। इस घटना में मरने वालों की संख्या 14 हो गई है। इस घटना में कुल 88 लोग घायल (Injured) हुए हैं। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (National Disaster Response Force) और नागरिक सुरक्षा (Civil Defence) के अनुसार, इनमें से 74 घायलों को बचा लिया गया है, जबकि 31 को अस्पतालों (Hospitals) से छुट्टी दे दी गई है।

एनडीआरएफ इंस्पेक्टर गौरव चौहान के अनुसार, गिरे हुए होर्डिंग के नीचे फंसे लोगों को बचाने के लिए खुदाई करने वाले पहले ही मलबे से 8 शव निकाल चुके हैं। उन्होंने बताया कि मलबे में 4 और शव दबे हुए हैं।

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Election: लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में 67.25 फीसदी वोटिंग, बंगाल में सबसे ज्यादा मतदान

मुंबई के घाटकोपर में सोमवार (13 मई) को भारी बारिश और तूफान के कारण एक होर्डिंग गिर गया। घाटकोपर के पेट्रोल पंप पर अवैध होर्डिंग गिरने से अब तक 14 लोगों की जान जा चुकी है। बचाव अभियान सोमवार शाम को शुरू हुआ, जिसमें 64 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। एनडीआरएफ ने मलबे में फंसे शवों को निकालने के लिए रात भर उत्खननकर्ताओं के साथ बचाव अभियान चलाया।

मृतकों के परिवारों को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि
बीएमसी ने सोमवार शाम एक बयान में कहा कि होर्डिंग गिरने के बाद 20 से 30 लोग अभी भी मलबे में फंसे हुए हैं। हालांकि, पेट्रोल पंप पर हुए हादसे के कारण एनडीआरएफ को मलबा हटाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था, जिससे खतरनाक स्थिति पैदा होने की आशंका थी। इस बीच, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सोमवार को मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने मृतकों के परिवारों को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि और घायलों के इलाज की घोषणा की।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि वह गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज करायेंगे।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.