वाराणसी को मिला बेस्ट स्मार्ट सिटी का पुरस्कार

वाराणसी स्मार्ट सिटी में 2018 से लगभग 1017.69 करोड़ की योजना स्वीकृत हुई थी। उसका कार्य पूरा हो चुका है। शहर के कई क्षेत्रों में अत्याधुनिक विकास किया गया है।

110

इंडिया स्मार्ट सिटी अवार्ड कंटेस्ट में वाराणसी स्मार्ट सिटी को नार्थ जोन (10 लाख से अधिक आबादी में) में बेस्ट सिटी के अवार्ड से सम्मानित किया गया। मध्य प्रदेश के इंदौर में बुधवार को शहरी एवं आवासन कार्य मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से आयोजित इंडिया स्मार्ट सिटीज़ कांक्लेव 2023 में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने वाराणसी के नगर आयुक्त और वाराणसी स्मार्ट सिटी के सीईओ शिपू गिरि को बेस्ट सिटी अवार्ड प्रदान किया। वाराणसी को बेस्ट स्मार्ट सिटी अवार्ड मिलने पर मंडलायुक्त कौशलराज शर्मा ने खुशी जताई।

कौशलराज शर्मा ने कहा कि पुरस्कार मिलना गर्व का विषय है। भविष्य में भी वाराणसी स्मार्ट सिटी अन्तर्गत शहर के चहुंमुखी विकास के लिए तत्पर रहेगी। मुख्य महाप्रबंधक वाराणसी स्मार्ट सिटी डॉ. डी. वासुदेवन ने इस पुरस्कार को समस्त काशीवासियों का सम्मान बताया। उन्होंने कहा कि वाराणसी का अलौकिक एवं अध्यात्मिक रूप के साथ यह आधुनिक संगम काशी को उदीयमान कर रहा है। गौरतलब हो कि नॉर्थ जोन के आगरा, लखनऊ, देहरादून, श्रीनगर, शिमला समेत 30 से अधिक स्मार्ट सिटी में से वाराणसी को बेस्ट स्मार्ट सिटी के लिए चुना गया। इस पुरस्कार के लिए स्मार्ट सिटी मिशन अन्तर्गत वाराणसी को परियोजनाओं के ससमय क्रियान्वयन, वित्तीय सतता, सक्सेज़ स्टोरी, परियोजनाओं की उपयोगिता, कुशल जनसहभागिता एवं फ़ीडबैक प्रणाली के आधार पर चयनित किया गया। वाराणसी स्मार्ट सिटी ने जो प्रोजेक्ट किया है, उसे तय समय सीमा और गुणवत्ता के साथ किया है।

यह भी पढ़ें – Jammu and Kashmir: लारकीपोरा में गाड़ी में विस्फोट, आठ मजदूर घायल; हालत गंभीर

शहर के कई क्षेत्रों में अत्याधुनिक विकास किया गया
वाराणसी स्मार्ट सिटी में 2018 से लगभग 1017.69 करोड़ की योजना स्वीकृत हुई थी। उसका कार्य पूरा हो चुका है। शहर के कई क्षेत्रों में अत्याधुनिक विकास किया गया है। वहीं करीब 329 करोड़ की लगभग 03 परियोजनाओं का काम प्रगति पर है। मार्च 2024 तक पूरा होने की संभावना है। इंदौर में वाराणसी का सुरक्षा कवच दिखाया गया। वाराणसी में लगे एडवांस सर्विलांस कैमरे के माध्यम से प्रदर्शनी में वाराणसी के सुरक्षा कवच को लाइव दिखाया गया। इसके अलावा रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर, मच्छोदरी मॉडल स्कूल वाराणसी की गलियों का अत्याधुनिक तरीके से विकास, इंटीग्रेटेड सिटी कमांड सेंटर और कॉलोनी के पार्क को भी 360 डिग्री वर्चुअल रियलिटी टूर के माध्यम से दिखाया गया।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.